पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

लॉकडाउन का दूसरा दिन:कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन में बेवजह घूमने पर पुलिस करेगी सख्ती

बहादुरगढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • कोरोनाकाल में लोगों को गाइडलाइन का पालन करते हुए मास्क लगाने व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने के लिए किया जा रहा जागरूक

प्रदेश में कोरोना की चेन तोड़ने के लिए लॉकडाउन जारी है। सरकार लोगों से अपील कर रही है कि बिना किसी जरूरी काम के घरों से बाहर न निकले,लेकिन लोग लापरवाह हो रहे है। ऐसे में अब बेवजह घूमने वालों को रोकने के लिए पुलिस ने नाकेबंदी की है।

पुलिस ने लॉकडाउन के पहले दिन आवश्यक कार्य के लिए आवागमन करने वालों के साथ ज्यादा सख्ती नहीं दिखाई। लेकिन मंगलवार को पुलिस सख्त हो गई और लोगों को वापस घर भेजा। पुलिस कर्मचारियों रोड व बाजारों में घूम-घूम कर लोगों को सख्ती से घर वापस भेजा। दिनभर शहर के बाजार व मुख्य मार्ग सुने रहे। हाईवे पर भी दुकाने बंद रही।

सभी आवश्यक वस्तुओं व किराने की दुकानें खोलने के निर्देश

डीसी ने सरकार द्वारा जारी निर्देशों के अनुसार ही सभी आवश्यक वस्तुओं व किरयाने की दुकानें खोलने के निर्देश जारी किए हैं।लॉकडाउन के दूसरे दिन अमुमन रोड सुने-सुने नजर आए। सुबह दस बजे लोग बैंक, वैक्सीन टीकाकरण, सैंपलिंग करवाने, दवाई लेने, अस्पताल जाने आदि कार्य के लिए घरों से निकले। पुलिस ने लोगों को चौराहों पर रोका और लॉकडाउन में आवागमन का कारण पूछा।

आवश्यक कार्य से बाहर निकलने पर संतुष्टि के बाद ही पुलिस लोगों को नाके से जाने दिया। बाजार पूरी तरह से बंद थे और सड़क सुनीं थी। अस्पताल में सैंपलिंग के लिए लोगों भीड़ थी लेकिन लोग एक-दूसरे से दो गज की दूरी पर खड़े दिखाई दे रही थे। रेलवे रोड पर सभी दुकानें बंद थी। कुछ सब्जी विक्रेता रेहड़ी लेकर खड़े हुए थे। जिन्हें पुलिस ने खदेड़ दिया और कहा कि वे यहां जमा न और गलियों में जाकर सब्जी बेचे। इसके बाद सभी रेहड़ीवाले चले गए।

लोगों से घरों में रहने की अपील

गौरतलब है कि लॉकडाउन का पहला दिन होने से लोगों को नियम और शर्तों के बारे में स्पष्ट जानकारी नहीं थी। किराना और मेडिकल शॉप के साथ फल, सब्जी, बर्तन, जूते, कपड़े आदि की कई दुकानें भी सुबह में खुल गई थी। मुनादी और पुलिस के समझाने के बाद प्रतिबंधित दुकानें बंद हो गई। केवल किराने की दुकान 11 बजे तक खुली रही। बैंक, दवाई, डेयरी, क्लिनिक, अस्पताल शाम तक खुले रहे।

सड़कों पर वाहनों सहित लोगों की आवाजाही बहुत कम थी। पुलिस के राइडर और पीसीआर सड़कों पर गश्त करती रही। गलियों में किराना और स्टेशनरी की कुछ दुकानें खुली थी। पुलिस प्रवक्ता चमनलाल ने बताया कि सरकार द्वारा लोगों को कोरोना वायरस से बचाने के लिए लॉकडाउन जैसे कदम उठाए जा रहे हैं, लेकिन कुछ लोग अब भी कोरोना को लेकर लापरवाही बरत रहे है। लोगों को इस समय सरकार व प्रशासन द्वारा जारी एडवाइजरी का पालन करते हुए घरों से बाहर नहीं निकलना चाहिए।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- समय अनुसार अपने प्रयासों को अंजाम देते रहें। उचित परिणाम हासिल होंगे। युवा वर्ग अपने लक्ष्य के प्रति ध्यान केंद्रित रखें। समय अनुकूल है इसका भरपूर सदुपयोग करें। कुछ समय अध्यात्म में व्यतीत कर...

    और पढ़ें