रोष / सफाई कर्मचारियों ने प्रदर्शन कर मांगा हक

बहादुरगढ़ में जुलूस निकाल प्रदर्शन करते सफाई कर्मचारी। बहादुरगढ़ में जुलूस निकाल प्रदर्शन करते सफाई कर्मचारी।
X
बहादुरगढ़ में जुलूस निकाल प्रदर्शन करते सफाई कर्मचारी।बहादुरगढ़ में जुलूस निकाल प्रदर्शन करते सफाई कर्मचारी।

दैनिक भास्कर

Jul 01, 2020, 04:33 AM IST

बहादुरगढ़. मांगों को लेकर सफाई कर्मचारी मंगलवार दूसरे दिन भी काम का बहिष्कार कर सामूहिक अवकाश पर रहे। अध्यक्षता इकाई प्रधान राजपाल ने की। शहर में जुलूस निकाल प्रदर्शन भी किया। सर्व कर्मचारी संघ हरियाणा ब्लाॅक प्रधान बिजेंद्र सैनी ने नगरपालिका कर्मचारियों की मांगों का समर्थन किया।

उन्होंने सरकार से मांग की कि मांगों को जल्द से जल्द लागू करना चाहिए जिससे जनता को कोई परेशानी ना हो क्योंकि कर्मचारी भी जनता का एक हिस्सा है, परंतु हरियाणा सरकार कर्मचारियों को कुछ मानती ही नहीं। उन्होंने कहा कि 25 अप्रैल 2020 के समझौते को लागू हाे। 25 अप्रैल 2020 को हुई वार्ता में समझौते के अनुसार 4 हजार रुपए जोखिम भत्ता लागू हाे।

ठेका प्रथा समाप्त करने, सफाई कर्मचारियों, सीवरमैन एवं फायर कर्मचारियों की भांति तृतीय एवं चतुर्थ श्रेणी के कर्मचारियों को ठेका प्रथा से मुक्त कर विभाग के रोल पर रखा जाये। 24 मई के बाद मैन पावर में लगे सफाई कर्मचारियों,सीवर मैनों व फायर कर्मचारियों को भी विभाग के रोल पर रखा जाये । यदि इसके बाद भी सरकार ने मांगों का समाधान नहीं किया तो आगामी आंदोलन के बारे आगामी निर्णय लिया जाएगा।

भेदभाव कर रही सरकार: जिला प्रधान 
जिला प्रधान राजेन्द्र तूषामड़ ने बताया कि हरियाणा सरकार बार-बार कर्मचारियों के साथ भेदभाव पूर्ण बर्ताव कर रही जिसके कारण कर्मचारियों में भारी रोष है। पिछले 2 दिन से सामूहिक अवकाश लेकर कामकाज ठप रखा गया है। राजेन्द्र तूषामड़ ने कहा अगर सरकार ने कर्मचारियों की मांगों को फिर भी लागू नहीं किया तो नगरपालिका कर्मचारी संघ हरियाणा के आह्वान पर प्रदेश का कर्मचारी 3 दिवसीय हड़ताल पर जाने के लिए मजबूर हो जाएगा। समय रहते सरकार ने कर्मचारियों की मांगों का समाधान नहीं किया तो 6, 7 व 8 जुलाई को 3 दिवसीय राज्यव्यापी हड़ताल पर जाने काे मजबूर हाे जाएंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना