पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहर में छापेमारी:छापेमारी की मुखबिरी पर फैक्ट्री में मिलेे ताले, टीम ने ट्रीटमेंट प्लांट के सैंपल जांच के लिए भेजे

बहादुरगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बंद पड़ी फैक्ट्रि जहां छापेमारी की। - Dainik Bhaskar
बंद पड़ी फैक्ट्रि जहां छापेमारी की।
  • सैंपल फेल पर हाेगी कार्रवाई, बंद फैक्ट्रियों पर कार्रवाई के लिए टीम तैयार

प्रदूषण नियंत्रण टीम ने मंगलवार को शहर में छापेमारी की। बताया जा रहा है कि मुखबिरी होने की खबर से सभी पानी प्रदूषण का मुख्य कारण बनी फैक्ट्रियों पर टीम को ताले लटके मिले। एक के बाद दूसरी व तीसरी सभी फैक्ट्रियों के बंद होने पर अब विभाग ने खुद ही मामले का संज्ञान में लेते हुए कार्रवाई शुरू की है। जिससे पानी में प्रदूषण फैला रही सभी फैक्ट्रियों को बंद करवाया जा सके।

वहीं इसके साथ-साथ टीम ने एमआईई नजफगढ़ रोड के निकट 36 एमएलडी के ट्रीटमेंट प्लांट पर पहुंचकर वहां पानी के सैंपल जांच के लिए प्रयोगशाला में भेजे गए हैं। यदि सैंपल फेल होते है तो आगे की कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड के आरओ दिनेश यादव व अमित कुमार की टीम ने मंगलवार को अचानक परनाला रोड पर स्थित डाई की फैक्ट्रियों पर छापा मारा।

हालांकि वर्किंग डे होने के बाद भी मंगलवार को फैक्ट्रियों पर ताले देख टीम को हैरानी हुई। माना जा रहा है कि फैक्ट्रियों के संचालकों के पास पहले से खबर थी कि प्रदूषण विभाग की टीम कभी भी अचानक छापा मार सकती है।

अब प्रदूषण विभाग की टीम ने बंद फैक्ट्रियों के खिलाफ ही कठोर कार्रवाई की तैयारी की है। गौरतलब है कि बहादुरगढ़ में डाई फैक्ट्रियों के कारण जमीन व माइनर तथा सीवर तीनों स्थानों पर पानी तेजी से प्रदूषित हो रहा है। इस बार में कई सालों के छापामारी हो रही है पर प्रदूषण फैलाने वाली फैक्ट्रियों को बंद नहीं करवाया जा सका।

जलाए जा रहे कूड़े के ढेर

अभी प्रदूषण के स्तर के बढ़ने का कारण हवा में ठोस धूल कणों का नीचे न आना है। वैसे अभी देसी स्तर से ही वायु प्रदूषण कम करने को लेकर विचार-विमर्श चल रहा है। बहादुरगढ़ में इन दिनों हर जगह बुरा हाल है। धूल उड़ने से रोकने के दावों की हवा राष्ट्रीय राजमार्ग व बाईपास सहित अन्य मुख्य मार्गों पर देखने को मिल रही है। यहां दिनभर वाहन चलने के साथ धूल उड़ती दिखाई दे रही है। जगह-जगह कूड़े के ढेर भी पड़े व जलाए जा रहे हैं।

बहादुरगढ़ में हवा-पानी के स्तर को सुधारने के लिए चाहिए एंटी स्मॉग गन

बहादुरगढ़ की हवा-पानी को सुधारने की तैयारी तो हैं पर साधन नहीं है। यहां एंटी स्मॉग गन खरीदने की योजना तक भी नहीं है जबकि एमआईई में अभी भी प्रदूषित हवा के चलते श्रमिक बीमार हो रहे हैं पर कोई देखने वाला नहीं है। इस गन के होने से इसे एक से दूसरे स्थान पर ले जाना आसान होता है।

वैसे पिछले साल ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान लागू करने के बाद केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने भी 20 हजार वर्ग मीटर से अधिक क्षेत्र में किसी भी प्रकार के निर्माण के दौरान एंटी स्मॉग गन लगाना जरूरी कर दिया था। वैसे इसका काम बहादुरगढ़ की फायर ब्रिगेड में किया जा रहा है। वैसे बहादुरगढ़ को एंटी स्मॉग गन मिल जाती है तो बहादुरगढ़ में 70 मीटर ऊंचाई तक बौछार हो सकेगी। इससे धूल-कण नीचे आ जाएंगे, जिससे प्रदूषण का स्तर नहीं बढ़ेगा।

परनाला रोड पर पानी प्रदूषण कर रही डाई की फैक्ट्रियों पर छापामारी की गई पर वह बंद मिली। पर उसके बाद भी अब प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड ने इन फैक्ट्रियों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की तैयारी की है।

इसी तरह से 36 एमएलडी सीवर ट्रीटमेंट प्लांट से पानी के सैंपल भी लिए गए हैं जिन्हें जांच के लिए भेजा है। अब बहादुरगढ़ में प्रदूषण फैला रही सभी फैक्ट्रियों पर लगातार छापेमारी रहेगी।
दिनेश यादव, आरओ प्रदूषण कंट्रोल बोर्ड झज्जर।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज दिन भर व्यस्तता बनी रहेगी। पिछले कुछ समय से आप जिस कार्य को लेकर प्रयासरत थे, उससे संबंधित लाभ प्राप्त होगा। फाइनेंस से संबंधित लिए गए महत्वपूर्ण निर्णय के सकारात्मक परिणाम सामने आएंगे। न...

    और पढ़ें