बाइक सवार ने पैदल ही पीछा किया पर फरार:कार-बाइक की टक्कर विवाद में सहयोगी बनकर आया युवक ही बाइक ले उड़ा

बहादुरगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

बाइक व कार की टक्कर में दोनों चालकों में चल रहे विवाद में सड़क के बीच खड़ी बाइक को साइड में लगाने की बात करके सहयोगी बन कर आए युवक ने बाइक पर ही हाथ साफ कर दिया। अपनी बाइक को अपने सामने ले जाते देख बाइक सवार मनोज ने काफी दूर तक भागते हुए उसका पीछा भी किया पर वह हाथ में नहीं आया। इस मामले में नई बस्ती निवासी मनोज ने पुलिस को बताया कि वह नई बस्ती निकट दलाल डेयरी का रहने वाला है व मंगलवार रात करीब दस बजे शिव चौक स्थित अपनी दुकान बंद करने के बाद नई बस्ती अपने घर जा रहा था। रुप गार्डन के पास एक बारात के कारण जाम लगा हुआ था। जाम से निकलते समय जैसे ही वह अपनी तरफ आया तो अचानक पीछे से बस अड्डे पर अवैध रूप से चलती इको ने उसे टक्कर मार दी। इस पर उनके बाइक रोक दी व इको चालक से बात करने लगा। इस पर वहां भीड़ एकत्र हो गई। इको चालक से बात चल रही थी कि बाइक सड़क के बीच में खड़ी होने के कारण एक व्यक्ति वहां आया व कहने लगा कि बाइक हटा देता हूं इस कारण सड़क पर जाम लग रहा है। मनोज ने बताया कि उसने सोचा कि वह बरात व गार्डन वालों की तरफ से होगा। उन्होंने कह दिया कि वे बाइक को हटा दे क्योंकि अलग वह गया तो इको चालक वहां से भाग जाएगा।

पीड़ित ने 112 पर पुलिस को दी सूचना: युवक ने बाइक को स्टार्ट किया व साइड में लगाने का बहाना बनाकर सड़क पर बाइक भगा दी। माजरा समझते देख वह भी पीछे-पीछे भागा पर वह धर्मपुरा की गलियों से निकल कर फरार हो गया। इसके बाद 112 पर पुलिस को सूचना दी। पुलिस टीम ने उसे रेलवे रोड पर स्थित विश्वकर्मा चौक पर बुलाया। वहां पहुंचा तो वहां से उन्होंने इसकी सूचना सिटी पुलिस को दी। बाद में सिटी थाने के पुलिस वहां पहुंची व शिकायत देने को कहा। पर अभी तक उसकी बाइक का कुछ भी पता नहीं चल पाया है। अंजान व्यक्ति पर भरोसा करना कितना खतरनाक सिद्ध हुअा।

खबरें और भी हैं...