पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Bawal
  • Panchayat At Bawal Against Highway Bandh, Said Petrol Pump, Dhaba Stalled; Farmer Said Police Remove Barricades, Will Leave In 4 Hours

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

किसान आंदोलन:हाईवे बंद के खिलाफ बावल में पंचायत, बोले- पेट्रोल पंप, ढाबे ठप; किसान बोले- पुलिस बेरिकेड्स हटाए, 4 घंटे में चले जाएंगे

बावल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली-जयपुर हाईवे संख्या 48 के जयसिंह पुर खेड़ा-शाहजहांपुर बॉर्डर पर चल रहे किसानों के धरने को कुछ लोगों ने सर्विस रोड पर शिफ्ट किए जाने की मांग की है। इसके लिए रविवार को बावल में पंचायत आयोजित की गई। इसमें किसान आंदोलन के चलते पेट्रोल पंपों से लेकर ढाबों के बंद होने का मुद्दा उठाया। साथ ही उद्योगों का कामकाज प्रभावित होने का भी हवाला दिया। वहीं किसानों ने इसके जवाब में कहा कि हाईवे को उन्होंने नहीं बल्कि पुलिस ने बंद किया हुआ है।

हमें दिल्ली जाना है, अगर पुलिस हमें जाने से ना रोके तो हम दिल्ली की तरफ कूच कर जाएंगे। रोड खुद खुल जाएगा। बता दें कि खेड़ा बॉर्डर पर किसानों ने 29 दिन से पड़ाव डाला हुआ है। तभी से ही दिल्ली की ओर जाने का रास्ता यहां से बंद किया हुआ है। कुछ दिन बाद ही जयपुर की ओर जाने का रास्ता भी बंद कर दिया गया था। वहीं किसानों के बेरिकेड्स तोड़कर आगे बढ़ने चलते अब मसानी पुल के नीचे भी सप्ताहभर से किसानों का धरना चल रहा है। इससे पड़ाव वाली जगह से वाहनों का आवागमन बंद है।

पेट्रोल-पंपों पर तेल नहीं बिक रहा
दिल्ली-जयपुर हाईवे पर बड़ी संख्या में पेट्रोल पंप है। अब खेड़ा बॉर्डर से मसानी तक करीब 30-35 किलोमीटर का एरिया पूरी तरह प्रभावित है। पंचायत में कहा कि पंपों तक बड़ी गाड़ियां पहुंच नहीं पा रही। इससे तेल की बिक्री बहुत कम हो गई है। पंपों पर काम करने वाले कामगारों का वेतन भी नहीं निकल रहा।

ढाबों का काम भी बुरी तरह हो रहा बाधित
पंपों की तरह ही ढाबों का काम भी बुरी तरह बाधित हो चुका है। यहां ट्रकों व बड़ी गाड़ियों के चालक, परिचालक व सहायकों के साथ ही अन्य राहगीर रुककर भोजन करते थे। मगर अब बड़ी गाड़ियां तो निकल नहीं पा रही। छोटी गाड़ियां जैसे-तैसे आती हैं, वो आगे जाने का रास्ता ढूंढ़ने की फिक्र में रुकते ही नहीं हैं।

विभिन्न दुकानों पर सामान की बिक्री भी ठप
पंचायत में शामिल लोगों ने कहा कि काफी संख्या में विभिन्न सामान की दुकानें भी इस एरिया में हैं। मगर हाईवे का आवागमन बंद हुआ तो इनकी बिक्री भी खासी घट गई। दुकानदारों के सामने घर का चूल्हा जला पाने के भी पैसे नहीं है। दुकानदार, ढाबा संचालक व पंप के कामगार भारी आर्थिक परेशानी से जूझ रहे हैं।

रविवार को 15 लोग क्रमिक अनशन पर बैठे
किसानों का क्रमिक अनशन रविवार को भी जारी रहा। शनिवार को 11 बजे अनशन पर बैठे अनशनकारियों का अनशन खुलवाकर 15 नए अनशनकारियों ने बागडोर थामी। रविवार के क्रमिक अनशनकारियों में शिवनाथ महला, शिव प्रसाद डूडी, बीरबल खरबास, नत्थूराम सैनी, संगीता कंवर, छाया कंवर, शीतल कँवर, मोहम्मद फजरू मेवाती, नीलेश रोट, बन्ने सिंह चोपड़ा, सवाई सिंह इचरा, रामेश्वर कुड़ी नारायण निथरवाल, गोपाल कड़वाल, सूरजमल पूनिया शामिल हुए। आमसभा को कई किसान नेताओं व आंदोलन का समर्थन करने वाले आगंतुकों ने सं‍बोधित किया। सबने किसान एकता को बल देकर इस ऐतिहासिक आंदोलन को और तेज करने की बात कही।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser