पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

दर्शनों के लिए खुला मां भीमेश्वरी का दरबार:प्रवेश के लिए एक समय में 5 लोगों को ही अनुमति दी, बिना मास्क के मंदिर परिसर में प्रवेश वर्जित

बेरी5 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
बेरी मंदिर परिसर में प्रवेश के लिए एक समय में 5 लोगों को ही टोकन के साथ प्रवेश की दी जा रही अनुमति।

कोविड-19 बंद किए गए विश्व प्रसिद्ध मां भीमेश्वरी मंदिर का दरबार रविवार को शारदीय नवरात्र के दूसरे दिन भक्तों की अरदास के बाद खोल दिया गया। जिला प्रशासन ने पूरे नियम और शर्तों के साथ भक्तों को मंदिर परिसर में प्रवेश करने दिया। दूरदराज से आए भक्तों के पता और फोन नंबर भी नोट किए गए और टोकन सिस्टम देकर सभी भक्तों को बारी बारी से दो गज की दूरी के साथ मंदिर में आकर मां के दर्शन पूजा पाठ करने दिया गया।

इस दौरान पूरे मंदिर परिसर में पुलिस सुरक्षा रही। मां भीमेश्वरी देवी मंदिर में कस्बे के अलावा दूर-दराज से जुड़े श्रद्धालुओं ने मां के दर्शन किए। मां के सुबह साढ़े बजे अंदर वाले भवन से बाहर वाले भवन में लाया गया। दूसरे नवरात्र पर बाहर वाले भवन में मां के भक्तों ने 5 हजार भक्तों ने टोकन लेकर सोशल डिस्टेंस के साथ दर्शन किए। मां के दरबार में आने भक्तों ने परिवार की मंगल कामना सहित विश्व कल्याण के लिए प्रार्थना की। मां के भक्त दर्शन के बाद खुशी खुशी अपने घर पर लौटे और प्रशासन के अच्छे इंतजाम के लिए आभार जताया।

मंदिर में पूजन सामग्री, प्रसाद ले जाना वर्जित
बेरी मंदिर में आने वाले श्रद्धालुओं के स्वास्थ को लेकर प्रशासन सजग रहा। कोरोना महामारी से बचाव के चलते थर्मल स्कैनिंग करते हुए मंदिर में भेजा जा रहा था। श्रद्धालुओं के लिए बाकायदा तय किए गए नियमों के मुताबिक ही दर्शनों का मौका दिया जा रहा था। मंदिर में किसी भी प्रकार की प्रसाद, पूजन सामग्री, चुनरी पोशाक चढ़ाना वर्जित है। काफी भक्त प्रसाद लेकर आ रहे थे। जिसके कारण भक्तों को प्रसाद और सामान बाहर ही छोड़ना पड़ा। बाद में दर्शन के बाद भक्तों ने अपना सामान लिया।

नवविवाहित जोड़ों ने जात दी, बच्चों के मुंडन हुए
मां के दरबार में नवविवाहित जोड़ों ने जात दी वहीं बच्चों के मुंडन करवाए। नायब तहसीलदार रमेश चन्द्र का कहना था कि दर्शन के अलावा सभी प्रकार के धार्मिक आयोजन जैसे कीर्तन, भंडारा आदि पर रोक है। पांच हजार श्रद्धालु मां के दर्शनों के लिए पहुंचे हैं। मंदिर के अंदर पांच भक्तों का प्रवेश किया गया है। सभी से सहयोग की अपील की जा रही है। मां भक्त अपने साथ प्रसाद चुनरी और सामान न लेकर आएं। उन्होंने कहा कि गर्भ गृह में प्रवेश पूर्ण रूप से प्रतिबंधित है। बिना मास्क के मंदिर परिसर में एंट्री वर्जित है। संक्रमण से बचाव के लिए कम से कम दो फीट की दूरी बना के रखना अनिवार्य है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपने विश्वास तथा कार्य क्षमता द्वारा स्थितियों को और अधिक बेहतर बनाने का प्रयास करेंगे। और सफलता भी हासिल होगी। किसी प्रकार का प्रॉपर्टी संबंधी अगर कोई मामला रुका हुआ है तो आज उस पर अपना ध...

और पढ़ें