कोविड के बढ़ते मामले:मुख्य सचिव ने की जिले में कोविड संबंधी गतिविधियों की समीक्षा

झज्जर14 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली व गुरूग्राम से सटा होने के कारण जिले में कोविड के बढ़ते मामलों को लेकर बेहद संवेदनशील है। ऐसे में सभी एसडीएम, ड्यूटी मजिस्ट्रेट, फ्लाइंग स्कवाड इंचार्ज व इंसीडेंट कमांडर गंभीरता के साथ महामारी अलर्ट-सुरक्षित हरियाणा की नवीनतम गाइडलाइन की पालना सुनिश्चित करें। यह बात डीसी ने शुक्रवार की लघु सचिवालय स्थित कांफ्रेंस हॉल में अधिकारियों को निर्देश देते हुए कही। इससे पहले हरियाणा के मुख्य सचिव संजीव कौशल ने भी झज्जर सहित राज्य के विभिन्न जिलों में कोविड को लेकर उपलब्ध संसाधनों व जिला स्तर पर जारी गतिविधियों की समीक्षा की।

मुख्य सचिव ने बढ़ते मामलों को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। डीसी ने निर्देश दिए कि जिले में कोविड की विकट स्थिति से निपटने के लिए कोविड अस्पतालों में ऑक्सीजन व आवश्यक मेडिसिन उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि किसी भी कोविड मरीज को ऑक्सीजन व मेडिसिन की कमी के चलते परेशानी का सामना न करना पड़े। कोरोना संक्रमण के दौरान होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों के लिए प्रदेश सरकार द्वारा स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से होम आइसोलेशन निर्देशिका जारी की है।

जिस बारे अधिक से अधिक लोगों को जागरूक किया जाए ताकि होम आइसोलेट व्यक्ति उसका लाभ उठा सके। इस अवसर पर एडीसी जगनिवास, डीएसपी प्रदीप कौशिक, झज्जर की एसडीएम शिखा, बेरी के एसडीएम रविंद्र कुमार, बादली के एसडीएम विशाल कुमार, सीटीएम रेणुका नांदल, सीएमओ डाॅ. संजय दहिया, डीडीपीओ ललिता वर्मा, डीआरओ बस्ती राम, डिप्टी सिविल सर्जन डाॅ. संजीव मलिक व डाॅ. मनोज कुमार सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...