एनजीटी की गाइडलाइन का पालना करें अधिकारी:डीसी ने की जिला एनजीटी गाइडलाइन से संबंधित कार्यों की समीक्षा

झज्जर16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

डीसी श्याम लाल पूनिया ने कहा कि जिले में नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (एनजीटी) की समय-समय पर मिलने वाली गाइडलाइन का पालन होना चाहिए। सभी विभाग आपसी समन्वय से काम करें। उन्हाेंने गुरुवार को जिले में एनजीटी से संबंधित कार्यों की समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देश दिए। डीसी ने कहा जिले से गुजरने वाली विभिन्न ड्रेन जोकि दिल्ली में यमुना नदी में गिरती है उनको लेकर एनजीटी के स्पष्ट निर्देश है।

संबंधित विभाग इस बारे में निर्देशानुसार काम करें। उन्होंने महाग्राम योजना के दायरे में आने वाले गांवों में ड्रेनेज सिस्टम के मामले में हुई प्रगति के बारे में भी जानकारी की। जनस्वास्थ्य एवं अभियांत्रिकी विभाग छारा व मांडौठी गांव में एसटीपी के प्रावधान की डीपीआर सबमिट करें। उन्होंने हरियाणा सरकार के तालाब प्राधिकरण से संबंधित कार्यों के बारे में भी जानकारी ली।

शहर व ग्रामीण क्षेत्रों में तालाबों को अतिक्रमण मुक्त करें

डीसी ने कहा कि शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में तालाबों को अतिक्रमण मुक्त किया जाए। साथ ही प्राचीन धरोहरों के स्वरूप में तालाबों को विकसित करें। इस संबंध में तालाब प्राधिकरण की गाइडलाइन भी आ चुकी है। पंचायती राज, विकास एवं पंचायत, सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग आपसी समन्वय से ग्रामीण क्षेत्रों में जलनिकासी की समस्या का स्थाई समाधान करें। इस अवसर पर एडीसी जगनिवास, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के क्षेत्रीय अधिकारी दिनेश कुमार, एक्सईएन पीआर संजीव शर्मा, एक्सईएन पीएचईडी केके गिल, बीडीपीओ रामफल व उमेद सिंह, ईओ अरुण नांदल सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...