झज्जर पुलिस ने जारी की एडवाइजरी:वाहनों को एक-दूसरे से सुरक्षित दूरी और धीमी गति से चलाएं, नशा नहीं करें

झज्जरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

धुंध, कोहरे और खराब मौसम के दौरान सुरक्षित सफर व सड़क हादसों को रोकने के लिए झज्जर पुलिस ने यातायात एडवाइजरी जारी की है। क्योंकि सर्द मौसम में सफर के दौरान सावधानी रखने से वाहन चालक ना केवल स्वयं बल्कि अन्य लोगों को भी सुरक्षित रख सकता है। जिला कप्तान वसीम अकरम ने वाहन चालकों से धुंध के दौरान अतिरिक्त सतर्कता से वाहन चलाने की अपील की है।

उन्होंने कहा कि धुंध व कोहरे के मौसम को देखते हुए वाहन चालक सफर के दौरान विशेष सावधानी बरतें। वाहनों को एक दूसरे से सुरक्षित दूरी व धीमी गति से चलाएं। मौजूदा परिवर्तनशील मौसम के हालात को ध्यान में रखते हुए धुंध व कोहरे के दौरान सड़क यातायात को सुरक्षित व बाधा रहित बनाने सहयोग करें।

यातायात नियमों का पालन करना ही दुर्घटना से बचाव का उपाय है। जिला कप्तान ने कहा कि धुंध व कोहरे के मौसम में एतिहात रखने व सड़क सुरक्षा के नियमों का पालन करने से न केवल वाहन चालक स्वयं को बल्कि दूसरों को भी सुरक्षित रख सकेंगे। कोई भी वाहन चालक शराब या किसी अन्य तरह का नशा करके वाहन नहीं चलाए। स्पीड का विशेष ध्यान रखते हुए वाहन को धीमी गति से चलाएं।

वाहनों पर मुफ्त में रिफ्लेक्टर टेप लगाने का विशेष अभियान भी चलाया जा रहा है। आप भी अपने वाहनों पर रिफ्लेक्टर टेप लगवाएं। ये धुंध व कोहरे के मौसम में कारगर साबित होती है। इसके अतिरिक्त सभी मुख्य सड़कों पर निरंतर गश्त करने के लिए पीसीआर व पुलिस के जवान भी तैनात किए गए हैं।

सफर में वाहन चालक लो-बीम हैड लाइट का इस्तेमाल करें
पुलिस के अनुसार, धुंध के दौरान सफर करते समय वाहन चालक लो-बीम हैड लाइट का इस्तेमाल करें। क्योंकि धुंध के दौरान हाई-बीम हैड लाइट कारगर नहीं होती। धुंध के कारण दृश्यता कम होने की स्थिति में इंडिकेटर्स को भी लगातार ऑन रखें। वाहन के आगे पीछे रिफ्लेक्टर लाइट या रिफ्लेक्टर टेप अवश्य लगवाएं, ताकि सड़क पर चल रहे अन्य वाहन चालकों को भी आपके वाहन का पता चल सके।

यदि धुंध व कोहरे के कारण दृश्यता कम हो जाती है तो ऐसी स्थिति में फॉग लाइट का उपयोग अवश्य करें। धुंध व कोहरे के दौरान सड़क पर चलते हुए वाहनों के बीच सुरक्षित दूरी बनाए रखें। धुंध के कारण दृश्यता बेहद कम होने की स्थिति में वाहन चालक सड़क पर पेंट की गई सफेद लाइन को गाइड के रूप में उपयोग करते हुए वाहन को धीमी गति से चलाएं।

मोबाइल फोन और म्यूजिक सिस्टम नहीं चलाएं
पुलिस के अनुसार, वाहन चलाते समय जरूरी है कि चालक का पूरा ध्यान सड़क पर हो। धुंध के दौरान गाड़ियों की गति को धीमा रखें। मोबाइल फोन और म्यूजिक सिस्टम का उपयोग करने से बचें। इसके अतिरिक्त, बाहर की आवाज का ध्यान रखने के लिए वाहनों के शीशे थोड़ा नीचे रखें, ताकि जो दिखाई न दे सके उसे सुनकर यात्रा को पूर्ण रूप से सुरक्षित बनाया जा सके।

खराब मौसम में आपात परिस्थितियों में वाहन को रोकना हो तो जहां तक संभव हो वाहन को सड़क से नीचे उतारकर रोका जाए। दृश्यता कम होने पर अन्य वाहनों को ओवरटेक ना करने के अतिरिक्त लेन बदलने, फ्री-वे और व्यस्त सड़कों पर वाहन को ना रोकने का आह्वान किया है।

खबरें और भी हैं...