पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

एम्स बाढ़सा में कोविड वैक्सीन को लेकर विवाद:प्रबंधन बोला-दिल्ली में लगेंगे कोविड वैक्सीन के टीके, स्टाफ ने जाने से किया इनकार

झज्जर4 दिन पहलेलेखक: देवेंद्र शुक्ला
  • कॉपी लिंक
  • डॉक्टर, स्टाफ नर्स, क्लेरिकल, पैरामेडिकल स्टाफ व अन्य कर्मचारियों को लगाई जानी है वैक्सीन

एम्स बाढ़सा में हेल्थ वर्करों को वैक्सीन लगाए जाने का अभियान शुरू होने से पहले ही विवादों में आ गया है। यहां मौजूद सभी हेल्थ वर्करों को दिल्ली एम्स में कोविड-19 की वैक्सीन लगवाने की बात कही गई है। जबकि स्टाफ का कहना है कि जब वे झज्जर बाढ़सा में काम कर रहे हैं तो कोई वैक्सीन भी इसी स्थान पर लगनी चाहिए। प्रबंधन और स्टाफ के बीच बने इस विवाद में नर्सिंग स्टाफ यूनियन शामिल हो गई है। एसोसिएशन जल्द ही इस बारे में एम्स डायरेक्टर को पत्र लिखकर उनसे गुजारिश करेगी कि एम्स बाढ़सा में ही हेल्थ वर्करों को वैक्सीन लगाई जाने की सुविधा दी जाए।

केंद्र सरकार के आदेश पर कोविड-19 वैक्सीन की पहली डोज हेल्थ वर्करों को दी जानी है। अब हरियाणा के नागरिक अस्पतालों में कार्यरत स्टाफ की बात करें तो यहां लगभग हेल्थ वर्करों को पहली डोज दी जा चुकी है और दूसरी डोज भी शुरू हो गई है जबकि झज्जर में मौजूद एनसीआई में पहली डोज ही कंप्लीट नहीं हुई है। यहां करीब 1000 हेल्थ वर्कर हैं। इनमें डॉक्टर से लेकर स्टाफ नर्स, क्लेरिकल, पैरामेडिकल स्टाफ और अन्य कर्मचारी शामिल हैं।

वैक्सीन की खेप यहां क्यों नहीं उपलब्ध कराई जा रही
बता दें कि एम्स एनसीआई में प्रदेश में सबसे ज्यादा 6 हजार कोरोना वायरस मरीजों का इलाज इन्हीं एक हजार हेल्थ वर्करों ने किया है और अब जब हेल्थ वर्करों को ही वैक्सीन लगाने की बारी आई है तो इस स्टाफ को इसके लिए दिल्ली जाने को कहा गया है। जिसका विरोध किया जा रहा है।

हालांकि जो स्टॉप ऑलरेडी दिल्ली से जहां ड्यूटी देने झज्जर आता है वह दिल्ली एम्स में जाकर वैक्सीन लगवा चुका है। इनमें ज्यादातर डॉक्टर हैं। अब बाकी स्टाफ का कहना है कि जब उन्होंने कोविड-19 कार्यकाल में झज्जर बाढ़सा में ही काम किया है और सारा सेटअप यहां मौजूद है तब वैक्सीन की खेप यहां क्यों नहीं उपलब्ध कराई जा रही।

स्टाफ इसलिए नहीं जाना चाहता दिल्ली
एम्स बाढ़सा में कार्यरत स्टाफ ने कहा कि उनके दिल्ली न जाने के कई कारण हैं जो जायज भी हैं। एक तो कर्मचारी अपने कार्यस्थल बाढ़सा को छोड़कर राजधानी दिल्ली के विशाल कैंपस में जाकर कोविड-19 स्थल पर जाएंगे जहां पहले से ही मरीज और दिल्ली एम्स स्टाफ की भीड़ है। दूसरा दिल्ली आने जाने में उनके कई घंटे खराब हो जाएंगे जिसका कोई किराया भाड़ा भी कर्मचारियों को नहीं मिलेगा।

^झज्जर एम्स से कर्मचारियों की यह शिकायत हमारे पास पहुंची है। उनकी मांग जायज है कि जो उनका कार्यस्थल है वहीं पर उन्हें वैक्सीन की डोज दी जानी चाहिए। इस संबंध में हम जल्द ही एम्स प्रबंधन को लेटर लिखने जा रहे हैं।

-हरीश काजला, अध्यक्ष स्टाफ नर्सिंग एसो. दिल्ली एम्स

जिले में कंटेनमेंट जोन का दायरा होगा कम: जिले में कोरोना वायरस खात्मा होने के बाद भी जिला स्वास्थ्य विभाग इस वायरस को फिर से न पनपने देने के लिए सतर्क है। लिहाजा जिस एरिया से कोरोना वायरस के मरीज सामने आ रहे हैं वहां अब कंटेनमेंट जोन का एरिया काफी कम क्षेत्र में बनाया जा रहा है।

इससे पहले कोरोना वायरस का मरीज जिस इलाके में रहता था उसके आसपास की कई गलियों में आना जाना प्रतिबंधित कर दिया जाता था लेकिन वायरस का ग्राफ कम होने पर कंटेनमेंट जोन का दायरा भी सीमित किया गया है। फिलहाल रूरल क्षेत्र में दो और शहरी क्षेत्र में 5 कंटेनमेंट जोन बने हुए हैं। कोरोना काल में झज्जर जिले में कुल 3583 कंटेनमेंट जोन बनाए जा चुके थे।

जिले में कोरोना के नए केस 3 जिले में कोरोना वायरस के नए एक्टिव केस बुधवार को तीन निर्धारित हुए हैं। इस तरह कोरोना के कुल एक्टिव केस अब जिले में पांच हैं। कोरोना से अभी तक 102 लोगों की मौत हो चुकी है और 5935 लोग कोरोना वायरस का शिकार हो चुके हैं।

^कोरोना वायरस की स्थिति जिले में सुधार की ओर है हमारी पूरी टीम इसके लिए बेहतर काम कर रही है। लेकिन जिस तरीके से देश के कुछ राज्यों में वायरस का प्रभाव फिर से आने की सूचना है उसे देखते हुए सभी टीमों को अलर्ट पर भी रखा गया है। सैंपल और ट्रैकिंग का काम पहले की तरह जारी है। हमने कंटेनमेंट जोन का एरिया जरूर कम किया है।
-डॉक्टर संजय दहिया, सीएमओ झज्जर

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आप प्रत्येक कार्य को उचित तथा सुचारु रूप से करने में सक्षम रहेंगे। सिर्फ कोई भी कार्य करने से पहले उसकी रूपरेखा अवश्य बना लें। आपके इन गुणों की वजह से आज आपको कोई विशेष उपलब्धि भी हासिल होगी।...

    और पढ़ें