पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

टेंडर:एक फर्म ने दूसरी फर्म पर लगाया टेंडर में फर्जी अनुभव प्रमाण पत्र लगाने का आराेप

झज्जर7 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • नगर परिषद ने घर-घर कचरा उठाने के लिए लगाया टेंडर, ईओ बोले-एनओसी के बाद ही देंगे कार्य

नगर पालिका से अपग्रेड हुई नगर परिषद के पहले ही सफाई टेंडर में गोलमाल के आरोप लगे हैं। आरोपों के कारण ही नगर परिषद ने बुधवार को टेंडर और होने के बाद भी संबंधित एजेंसी को वर्क आर्डर जारी नहीं किए है। इस बारे में नगर परिषद के ईओ का कहना है कि अन्य शहरों से एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट आने के बाद ही वर्क आर्डर दिया जाएगा और अगर कुछ भी गड़बड़ी मिलती है ताे टेंडर रद्द किया जा सकता है।

नगर परिषद बनने के बाद झज्जर स्थानीय निकाय ने घर-घर कचरा उठाने का टेंडर जारी किया था। जिसकी टेक्निकल और फाइनेंस बीड बुधवार को खोली गई। इसमें गोहाना की फर्म लॉर्ड शिवा को शहर से निकाले गए पुराने कचरे से खाद बनाने का टेंडर दिया गया है। टेंडर जारी होने के साथ ही करनाल की एक फर्म ने आपत्ति जताई कि गोहाना कि जिस फर्म ने अपना एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट टेंडर में संलग्न किया है वो सर्टिफिकेट ही फर्जी तरीके से लगा हुआ है। और इस आधार पर एक अन्य शहर से उसका टेंडर रद्द कर दिया गया था।

इस आरोप पर नगर परिषद झज्जर ने अब फैसला लिया है कि इस फर्म ने जहां-जहां भी काम किया है उस शहर की स्थानीय निकाय और अन्य संस्था से इसके वर्क एक्सपीरियंस की जानकारी ली जाएगी और कहीं से भी निगेटिव सूचना आती है तो टेंडर रद्द कर दिया जाएगा। यह भी कहा गया कि आमतौर पर किसी को टेंडर जारी होते हैं तो इस तरह के आरोप उस कंपनी पर अक्सर लगते हैं। जिसका टेंडर निकला होता है फिर भी परिषद इस मामले में जांच कराने के लिए तैयार है।

इन दो कार्यों के लिए छोड़े गए टेंडर

नगर परिषद ने घर-घर से कूड़ा उठाने और पुराने कचरे की खाद बनाने संबंधी दो अलग-अलग टेंडर छोड़े हैं। घर घर पूरा कचरा उठाने के टेंडर में तीन काम शामिल किए गए हैं। इनमें कचरा कलेक्ट करने के साथ-साथ एमआरएफ सेंटर में कचरे की छटाई और गीले कचरे से खाद बनाना भी शामिल हैं।

15 लाख रुपए से उठाया जाएगा घर घर कचरा

नगर परिषद ने अभी इस बात का खुलासा नहीं किया है कि पिछली बार घर-घर कचरा उठाने के एवज में 10 लाख रुपए का खर्चा नगर पालिका के द्वारा उठाया जा रहा था। अब परिषद बनने के बाद ये खर्चा करीब 15 लाख रुपए का हो गया है। हालांकि फाइनल रेट क्या तय हुए हैं इसकी सूचना गुरुवार को ही मिल पाएगी। इसी प्रकार शहर के डंप स्टेशन उंटलोधा में जो पुराना कचरा रखा है। इस कचरे से जो भी खाद बनाई आएगी इसका टेंडर जारी किया गया है।

यह सही है कि टेंडर खोले जाने के दौरान ही करनाल की एक फर्म ने गोहाना की एक एजेंसी पर आरोप लगाए हैं कि उन्होंने फर्जी टेक्निकल सर्टिफिकेट का इस्तेमाल किया है। इस आरोप को ही गंभीरता से लेते हुए अभी हम वर्क आर्डर नहीं दे रहे हैं। टेंडर जिस कंपनी के नाम अलॉट हुआ है। उस कंपनी ने जिन जिन जगह स्थानीय निकायों या अन्य जगह काम किया है। वहां से हम एक्सपीरियंस सर्टिफिकेट मंगाएंगे और अगर सर्टिफिकेट सही नहीं पाया गया तो हम टेंडर रद्द कर देंगे। अरुण कुमार नांदल, ईओ नगर परिषद झज्जर

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- घर-परिवार से संबंधित कार्यों में व्यस्तता बनी रहेगी। तथा आप अपने बुद्धि चातुर्य द्वारा महत्वपूर्ण कार्यों को संपन्न करने में सक्षम भी रहेंगे। आध्यात्मिक तथा ज्ञानवर्धक साहित्य को पढ़ने में भी ...

और पढ़ें