पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

झज्जर:जिला बार एसोसिएशन के ऑनलाइन चुनाव पर लगी रोक, अब वकीलों को आगामी आदेश का इंतजार

झज्जर11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

जिला बार एसोसिएशन के ऑनलाइन चुनाव कराने का मामला बुधवार को दिनभर चर्चा का विषय बना रहा। प्रदेश की कई बार एसोसिएशन के वकील इसके विरोध में थे। इसके बावजूद वकील बार काउंसिल ऑफ पंजाब एवं हरियाणा की ओर से आए आदेशों के मुताबिक प्रक्रिया को पूरी करने में जुट गए थे। दोपहर से वकीलों ने नॉमिनेशन करना शुरू कर दिया था। बाद में पता चला कि ऑनलाइन व्यवस्था के खिलाफ हाईकोर्ट में डाली गई याचिका एडमिट हो गई है।

इस कारण अब बार काउंसिल ऑफ पंजाब एवं हरियाणा की ओर से ऑनलाइन चुनाव संबंधी प्रक्रिया रुक गई है। हाईकोर्ट की ओर से इस संबंध में दिए गए विस्तृत फैसले के बारे में ही अब आगामी रणनीति बनाई जाएगी। बुधवार को नामांकन पत्र दाखिल कराने संबंधी प्रक्रिया शुरू होनी थी। इससे पहले बार एसोसिएशन के वकीलों ने ऑनलाइन चुनाव ना कराने का मन बनाया। वकीलों का मानना था कि प्रदेश की अधिकांश जिला बार एसोसिएशन ऑनलाइन व्यवस्था के जरिए चुनाव कराने के पक्ष में नहीं है। इसलिए जब भी चुनाव हो तब बैलट पेपर का प्रयोग हो।

हाईकोर्ट के विस्तृत फैसला देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है: पूर्व प्रधान
बार एसोसिएशन के पूर्व प्रधान नरेश झामरी ने बताया कि अब हाईकोर्ट के विस्तृत फैसला देखने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है। उनका मानना है कि अभी तक वकील बार काउंसिल के हिसाब से ही चुनाव कराते आए हैं। 11 वकीलों ने नामांकन भी दाखिल किए हैं। कुछ वकीलों का तर्क है कि अब यह मामला कोर्ट में चले जाने से पूरी व्यवस्था चौराहे पर आकर खड़ी हो गई है। इसलिए अब हाईकोर्ट की ओर से जारी होने वाले आदेशों के भी काफी मायने रहेंगे। आमतौर पर जिला बार, वकीलों के हितों की लड़ाई एकजुट होकर लड़ती रही है, लेकिन चुनाव संबंधी प्रक्रिया के शुरू होने के बाद उपजे ताजा हालातों के बाद कई वकीलों ने चुप्पी साध ली है।

कुछ सीनियर वकीलों का तर्क किया था कि जब जिला अदालतों में ही सुचारू रूप से काम नहीं चल रहा है। ऐसे में बार का चुनाव ना होने से वकीलों का कोई बड़ा मुद्दा भी नहीं अटका हुआ है। इस सब स्थिति के बावजूद ऑनलाइन व्यवस्था के जरिए बुधवार को 11 वकीलों ने अलग-अलग पदों के लिए नामांकन पत्र दाखिल किए। इनमें सबसे अधिक नामांकन प्रधान पद के लिए आए। इस पद के लिए 5 प्रत्याशी रहे, जबकि उप प्रधान के लिए एक, सचिव के लिए दो, सह सचिव के लिए दो व कोषाध्यक्ष के लिए एक नामांकन आया।

हाईकोर्ट के आदेशों के बाद बनेगी व्यवस्था
बार एसोसिएशन के चुनाव के लिए नामांकन भी दाखिल हुए हैं, लेकिन बाद में पता चला कि हाई कोर्ट में ऑनलाइन व्यवस्था के जरिए चुनाव ना कराने पर कोई फैसला हुआ है। इस लिहाज से अब फैसले की विस्तृत जानकारी का अध्ययन किया जाएगा। हाईकोर्ट के आदेशों के बाद नई व्यवस्था किस प्रकार से बनती है यह देखने का विषय रहेगा। -ओम प्रकाश गोयल, चुनाव अधिकारी जिला बार एसोसिएशन।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज का दिन परिवार व बच्चों के साथ समय व्यतीत करने का है। साथ ही शॉपिंग और मनोरंजन संबंधी कार्यों में भी समय व्यतीत होगा। आपके व्यक्तित्व संबंधी कुछ सकारात्मक बातें लोगों के सामने आएंगी। जिसके ...

और पढ़ें