पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

हादसा:ड्राइवर को नींद की झपकी आने से बस की एक साइड काे चीरता गया ट्राला, दोनों ड्राइवर व यात्री सहित तीन की माैत

झज्जरएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बहुझोलरी बस स्टैंड से वाया झज्जर चंडीगढ़ के लिए 4:40 बजे रवाना हुई थी बस, सुबह 5 बजे पातुवास नहर के पास हुआ हादसा

बहुझोलरी गांव से झज्जर होकर चंडीगढ़ जा रही एक रोडवेज बस को झाड़ली की तरफ जा रहे ट्राले ने टक्कर मार दी। हादसे का कारण ट्राला चला रहे ड्राइवर को सुबह 5 बजे नींद का झोंका आना रहा। इससे दोनों ही वाहनों के ड्राइवरों की मौके पर मौत हो गई जबकि बस में सवार 9 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। घायलाें में से एक और युवक ने एक ने दम तोड़ दिया। 4 घायलों को पीजीआई रोहतक रेफर किया गया है। झज्जर डिपो की बस रोजाना की तरह बुधवार 4:40 पर बहुझोलरी बस स्टैंड से बाया झज्जर चंडीगढ़ के लिए रवाना हुई।

बस को खानपुर कलां निवासी ड्राइवर संजीव पुत्र धर्मवीर चला रहा था। साथ में बहु गांव निवासी कंडक्टर विशाल पुत्र श्री चरण मौजूद था। बहु झोलरी बस स्टैंड से बस रवाना हुई तब इसमें 8 यात्री मौजूद थे। यह बस पहले खानपुर कलां रुकी। इसके बाद ससरोली इसका अगला स्टॉप नोगामा गांव था। बस 15 किलोमीटर ही चली थी कि 20 मिनिट बाद ही पातुवास नहर के पास झाड़ली प्लांट की ओर जा रहे ट्राले से इसकी टक्कर हो गई।

इस हादसे में रोडवेज ड्राइवर संजीव पुत्र धर्मवीर और ट्राला ड्राइवर बिरधाना गांव निवासी मनजीत पुत्र रणवीर की मौके पर ही मौत हो गई। जबकि बस में सवार एक अन्य यात्री अश्वनी निवासी बहू झोलरी की भी इस सड़क हादसे में जान चली गई। ट्राले में क्लीनर था या नहीं इस बात की जानकारी नहीं मिल सकी है।

घायल बोले, तेज धमाके के बाद किसी का सिर फूटा तो किसी के दांत टूटे

ट्रॉले की टक्कर से रोडवेज बस में मौजूद सवारियों को इस बात का पहले तो एहसास ही नहीं हुआ कि आखिर एकाएक तेज आवाज के साथ उनके सिर और चेहरे सामने की सीट और खिड़कियों से क्यों टकराए। टक्कर इतनी तेज थी कि ट्रॉले का अगला हिस्सा बस की एक साइड को चीरता हुआ निकल गया और बस के मलबे में लहूलुहान कुछ लोथड़े दिखाई दे रहे थे। अब यह पुलिस के लिए जांच का विषय है कि बस के ड्राइवर के शरीर का हिस्सा है या सवारी का। नागरिक अस्पताल में इलाज के लिए आए झामरी निवासी रोशन लाल का निचला जबड़ा टूट चुका था। वो बात करने में असहज रहा। दर्द से करहाता हुआ इशारों से बता रहा था कि टक्कर बहुत भयानक थी और उसका चेहरा अगली सीट से टकराया। इसी प्रकार झांसवा गांव के हर्ष ने भी दर्द से कराहते हुए कहा कि बस अपनी साइड में सामान्य गति से चल रही थी, तभी तेज धमाका हुआ जैसे कोई बम फटा हो और कुछ पलों बाद जब यात्री संभले तो पता चला कि ट्राले की जबरदस्त टक्कर हुई है। बस में चीख-पुकार मची हुई थी। शोर करते हुए लोग बस से नीचे उतरे। हर्ष ने कहा कि मेरे पैरों में बुरी तरीके से दर्द हो रहा था और मैं उठने के लायक भी नहीं था कुछ लोगों ने मुझे किसी तरीके से बस से उतारा तब मैं अस्पताल आ सका। बताया गया कि बस में 15 सवारियां मौजूद थी। इनमें से पांच बिहार निवासी मजदूर सबसे पीछे बैठे हुए थे, इसके अलावा कुछ अन्य लोगों को हल्की-फुल्की चोट लगी थी वो सड़क हादसे के कुछ देर बाद घटनास्थल से रवाना हो गए।

पहले तेज आवाज सुनी मानो टायर फटा हो, फिर नजदीक जाकर देखा तो बस के परखच्चे उड़े हुए थे

मैं सुबह 4:30 बजे उठ गया था। अपने ढाबे पर मौजूद चारपाई पर बैठा सुबह की हवा ले रहा था। ढाबे के कारिंदे ने मुझे चाय बना कर दी। आधा घंटा बीता था कि सड़क की ओर से एक तेज आवाज मैंने सुनी, जैसे कोई टायर फटा हो। 10 मिनिट बाद पुलिस गाड़ी के सायरन और एंबुलेंस की आवाज सुनी। मैं ये देखने के लिए दौड़ा तो देखा ढाबे के ठीक सामने रोडवेज बस के परखच्चे उड़े हुए थे। भीषण सड़क हादसा देख कर बुरी तरह चौक गया। रोडवेज बस के ड्राइवर वाली साइड पूरी तरीके से उखड़ी हुई थी। बस में से 3 यात्री सड़क पर बेसुध गिरे थे बाकी अंदर लहूलुहान हालत में थे। कुछ राहगीर मौके पर रुके उन्होंने पुलिस कंट्रोल रूम को फोन लगाया। घटना स्थल से 4 किलोमीटर की दूरी पर मातनहेल पुलिस चौकी थी लिहाजा घायलों को पुलिस की तुरंत मदद मिल गई। सड़क के दूसरी ओर झाड़ली जाने वाले मार्ग पर 16 टायर वाला ट्राला खेत में घुसा हुआ था। -प्रत्यक्षदर्शी रमेश, संचालक शिव शंकर ढाबा

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज भविष्य को लेकर कुछ योजनाएं क्रियान्वित होंगी। ईश्वर के आशीर्वाद से आप उपलब्धियां भी हासिल कर लेंगे। अभी का किया हुआ परिश्रम आगे चलकर लाभ देगा। प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कर रहे लोगों के ल...

और पढ़ें