पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

रोष:कबलाना गांव के वाटर टैंक की सालों से सफाई नहीं, चारदीवारी भी टूटी पड़ी

झज्जर12 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

कबलाना गांव में इन दिनों ग्रामीण गंदगी व कीचड़ युक्त पानी पीने को मजबूर है। कई सालों से वाटर टैंक की सफाई नहीं हो पाई है और वाटर टैंक में डाला गया पानी गाद से पूरी तरह लबालब भरा पड़ा है। हालात यह है कि शिकायत के बाद भी संबंधित विभाग का इस ओर ध्यान नहीं है। रविवार को दर्जनों युवा जलघर में मौजूद पानी में जमा कीचड़ और गाद को देखने पहुंचे।

युवाओं की एक टोली ने वाटर टैंक के पानी में उतर कर इसमें जमा घास, काई और गाद को देखकर आक्रोश जताया। गांव के युवा ही नहीं, बुजुर्ग और अन्य मौजूद लोगों ने भी इस बात पर रोष जाहिर किया है कि वाटर टैंक को जन स्वास्थ्य विभाग ने लावारिस हालत में छोड़ दिया है। यहां वाटर टैंक के अंदर तो हालात खराब हैं ही इसके बाहर भी बड़ी-बड़ी घास और खरपतवार उगी हुई है। वाटर टैंक की चारदीवारी जगह-जगह से टूटी हुई है। साथ ही वाटर टैंक की जमीन पर लोगों ने अवैध रूप से अपने कब्जे में कर रखें हैं।

गांव निवासी मास्टर हवा सिंह कबलाना, रिटायर्ड कैप्टन राजेन्द्र सिंह, सुल्तान धारीवाल, राजपाल, वजीर सिंह का कहना है कि जो हालात वाटर टैंक में पड़ी गंदगी के हैं उससे ऐसा लगता है कि शायद इस वाटर टैंक की सफाई हुए ही काफी लंबा अरसा या फिर सालों हो चुके है। गांव के इन युवाओं ने अपने स्तर पर इस वाटर टैंक की सफाई का भी प्रयास किया।

पानी मेें गाद इस कदर जमा थी कि पानी की सफाई कराना तो दूर की बात पानी में बुरी तरह से सड़ांध मार रही थी। जिसकी वजह से इनका पानी से निकलना भी दूभर हो गया। बाद में इन युवाओं ने संबंधित विभाग के अधिकारियों को मामले की शिकायत देने की बात कही। वहीं गांव के युवाओं का कहना है कि यदि समय रहते वाटर टैंक की सफाई नहीं हुई तो फिर वह इसके लिए आंदोलन का रास्ता अपनाना पड़ेगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आप अपनी दिनचर्या को संतुलित तथा व्यवस्थित बनाकर रखें, जिससे अधिकतर काम समय पर पूरे होते जाएंगे। विद्यार्थियों तथा युवाओं को इंटरव्यू व करियर संबंधी परीक्षा में सफलता की पूरी संभावना है। इसलिए...

और पढ़ें