पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विकास कार्य होंगे:अटेली विधानसभा के कई गांवों के 21 लिंक मार्गों को पक्का करने की मिली स्वीकृति

कनीना11 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • जल्द ही टेंडर जारी कर शुरू होगा निर्माण कार्य : सीताराम यादव

प्रदेश में सरकार के द्वारा सभी गांवों को एक दूसरे से जोड़ने वाले लिंक मांर्गों को भी पक्का करने का कार्य किया जा रहा है। ताकि भविष्य में लोगों को किसी भी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़े। जिसके तहत हरियाणा एनसीआर के अंतर्गत आने वाले अटेली विधानसभा क्षेत्र के 21 लिंक मार्गो को मंजूरी मिली है। उपरोक्त जानकारी देते हुए विधायक सीताराम यादव ने बताया कि एक पत्र मुख्य प्रशासक हरियाणा राज्य कृषि विपणन बोर्ड की तरफ से जारी किया गया है।

जिसमें अटेली हल्के के गांवों के कुल 21 रास्ते मंजूर हुए हैं। विधायक सीताराम यादव ने बताया कि उन्होंने मुख्यमंत्री को अप्रैल माह में 36 रास्तों की मंजूरी का प्रस्ताव भेजा था। जिसमें से 21 रास्तों को बनाने की स्वीकृति मिली है। चार रास्ते जो रिकॉर्ड में 33 फुट के है उन्हें पीडब्ल्यूडी विभाग के पास भेजा गया है। वहीं 22 फुट के 25 फुट वाले रास्ते पंचायती राज विभाग के पास पाइपलाइन में हैं।

पीडब्ल्यूडी विभाग की तरफ से हल्के के पांच रास्ते पहले ही मंजूर किए जा चुके हैं जिन पर बहुत जल्द कार्य शुरू होने वाला है। उन्होंने कहा कि स्वीकृत हुए 21 लिंक मार्गो के टेंडर प्रक्रिया शुरू करके जल्द ही इन पर तीन से चार महीनों में कार्य शुरू कर दिया जाएगा। सीताराम यादव ने बताया कि हल्के में 22, साडे 27 और 33 फुट के कुल 60 रास्ते जो पाइपलाइन में हैं उनपर भी जल्द ही कार्य शुरू होने वाला है।

यह रास्ते हुए मंजूर

संबंधित विभाग के द्वारा जारी लिस्ट के अनुसार गांव सुंदरह से कोका, मुंडिया खेड़ा से बेवल, मुंडिया खेड़ा से कलवाडी, पाथेड़ा से गुढ़ा, पाथेड़ा से कैमला, भोजावास से मानपुरा, खरखड़ाबास से अगियार, घडीरुथल से गुजरवास, खैराना से खारीवाड़ा , नौताना से बालरोड, नावदी से मांढण (राजस्थान बॉर्डर तक),कांटी से नावदी,खोड से कनीना रोड, भोजावास से बेवल ,चेलावास से धनौदा ,गुढ़ा से कोका ,पाथेडा से झूंक, मानपुरा से निमोठ, अगियार से तलवाना, कनीना से उन्हाणी, स्याणा से पोता के लींक रास्तों को बनाने की मंजूरी दी गई है। वहीं बोचडिया से गनियार, बचीनी से कोका, मुंडिया खेड़ा से दौंगडा व गाहड़ा से कोटिया के मार्ग को पीडब्ल्यूडी विभाग के पास भेजा गया है।

खबरें और भी हैं...