पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

जायजा:उपायुक्त ने किया लघु सचिवालय और न्यायिक परिसर के लिए प्रस्तावित जगह का निरीक्षण

कनीनाएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कनीना में लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन के लिए जगह का निरीक्षण करते जिला उपायुक्त व अन्य अधिकारी।
  • मंत्री ओमप्रकाश ने भी लोगों को कस्बे में ही लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन बनवाने का दिया आश्वासन

कनीना कस्बे में बनने वाले लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन के लिए मंगलवार को डीसी अजय कुमार ने जगह का निरीक्षण किया गया। इस दौरान उनके साथ एडीसी अभिषेक मीणा, कनीना के एसडीएम रणवीर सिंह व अन्य अधिकारी उपस्थित रहे। इस दौरान पटवारी अनूप सिंह ने मौके का नक्शा दिखा जगह को लेकर अवगत कराया। बता दें कि लघु सचिवालय व उपमंडल स्तरीय न्यायालय भवन को कनीना कस्बे में बनवाने की मांग करीब पिछले पांच वर्षों से चली आ रही है। जिसके लिए फिलहाल नेताजी सुभाष चंद्र बोस क्लब के पास स्थित जमीन को चिन्हित किया हुआ है। जिसकी पैमाइश भी की जा चुकी है।

मंगलवार को डीसी अजय कुमार ने जगह का निरीक्षण कर सारी जानकारी जुटाई। लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन के लिए चार एकड़ जगह की आवश्यकता है। लेकिन उक्त स्थान पर कस्बे में करीब पांच एकड़ के आस-पास जगह है। जिसमें एक एकड़ भूमि नपा के नाम से व चार एकड़ भूमि स्कूल के नाम से है। जिनपर आसानी से लघु सचिवालय भवन व न्यायिक परिसर भवन बनाया जा सकता है।

बता दें कि खंड में बनने वाले लघु सचिवालय व उपमंडल स्तरीय न्यायालय भवन को कनीना कस्बे में बनाने की मांग करीब पिछले पांच वर्षों से चली आ रही है। जो इस बार सीरे चढ़ती नजर आ रही है।

कनीना कस्बे में लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन बनाने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने वर्ष 2015 में महाविद्यालय में आयोजित अपनी रैली में घोषणा की थी। जिसके बाद से ही कस्बे में लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन के निर्माण को लेकर दर्जनों से भी अधिक बार अधिकारियों के द्वारा जगह का निरीक्षण किया जा चुका है।

भवन के लिए उन्हाणी स्थित एक जगह को फाइनल करने पर कस्बावासियों के द्वारा करीब 65 दिनों तक उपमंडल कार्यालय में धरना भी दिया गया था। जिसे केन्द्र मंत्री राव इंद्रजीत के आश्वासन पर खोला गया था। इसके बाद सीएम मनोहर लाल खट्टर ने भवन बनाने के लिए 3 मार्च 2019 को चंडीगढ़ से ऑनलाइन शिलान्यास किया था।

उस समय कस्बे में लघुसचिवालय व न्यायिक परिसर भवन कनीना में बनाने के लिए 54 करनाल व 6 मरला जगह निर्धारित भी कर ली गई थी। निर्धारित जमीन में नपा की 154 दुकानें भी बनी हुई थी। जिन्हें हटवाने के लिए सभी 154 दुकानदारों को पंचायत समिति के द्वारा नोटिस भी जारी किए गए थे। जिसके बाद से सभी दुकानदारों में भय का माहौल उत्पन्न हो गया था। उसके बाद दुकानदारों ने हाई कोर्ट में शरण लेकर मामले को बीच में ही रुकवा दिया था।

जिसके कुछ समय बाद ही अधिकारियों के द्वारा फिर से जगह का निरीक्षण किया गया। इसके बाद हाईकोर्ट की बिल्डिंग कमेटी ने उन्हाणी स्थित साइट पर भवन बनवाने के लिए अपनी रिपोर्ट सौंपी। जिसके बाद कस्बावासियों में फिर से रोष उत्पन्न होना शुरू हो गया। जिसको लेकर कस्बे के लोगों ने हलका विधायक के माध्यम से सीएम मनोहर लाल खट्टर से कनीना कस्बे में ही लघु सचिवालय भवन व न्यायिक परिसर भवन बनवाने की मांग की थी।

जिसके बाद फिर से कुछ दिनों पहले ही नेताजी सुभाष चंद्र बोस क्लब के पास स्थित जमीन को चिन्हित कर पैमाइश करवाकर जगह का नक्शा तैयार किया गया था। जिसको लेकर मंगलवार को जिला उपायुक्त अजय कुमार ने जगह का निरीक्षण किया है।

कनीना कस्बे में नपा के नवनिर्मित भवन के उद्घाटन कार्यक्रम के बाद मंत्री ओमप्रकाश यादव विश्व हिंदू परिषद के प्रखंड अध्यक्ष महेश बोहरा के छोटे भाई चंद्रमोहन बोहरा के घर पहुंचे। वहां पर भोजन उपरांत मंत्री ने सभी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की व लोगों की समस्याएं भी सुनी। मंत्री ओमप्रकाश ने बताया कि स्वर्गीय सत्यवीर सिंह बोहरा उनके बहुत ही अच्छे मित्र व सुख-दुख के साथी रहे हैं।

उनके जाने से अपूरणीय क्षति हुई है उनके सरल स्वभाव के कारण इलाके के लोग बोहरा को हमेशा याद रखेंगे। इस दौरान कस्बावासियों ने भी मंत्री से मुलाकात कर लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन कस्बे में ही बनवाने की बात रखी। जिसपर मंत्री ने आश्वासन देते हुए कहा कि लाेगों की इच्छा के अनुसार ही लघु सचिवालय व न्यायिक परिसर भवन बनवाया जाएंगा।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आपका कोई भी काम प्लानिंग से करना तथा सकारात्मक सोच आपको नई दिशा प्रदान करेंगे। आध्यात्मिक कार्यों के प्रति भी आपका रुझान रहेगा। युवा वर्ग अपने भविष्य को लेकर गंभीर रहेंगे। दूसरों की अपेक्षा अ...

और पढ़ें