पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोरोना वायरस:अटेली सीएचसी में 54, सीहमा में 106, बाछौद में मिले 65 कोरोना पॉजिटिव केस, दुबलाना बना नया कंटेनमेंट जोन

मंडी अटेलीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
गांव दुबलाना में बेरीकेड्स लगाती पीडब्ल्यूडी विभाग की टीम। - Dainik Bhaskar
गांव दुबलाना में बेरीकेड्स लगाती पीडब्ल्यूडी विभाग की टीम।
  • अटेली में शुक्रवार को नगरपालिका की ओर से सेनिटाइज अभियान चलाया गया

अटेली सीएचसी के अंतर्गत लॉकडाउन के बाद संक्रमण के केसों में कुछ कमी आने लगी हैं। शुक्रवार को अटेली केंद्र में 54 कोरोना पॉजिटिव केस आए। वहीं बाछौद पीएचसी में 25, सीहमा में नये संक्रमित केस सामने आए हैं। अटेली मंडी शहर में शुक्रवार को 13 संक्रमित आने के बाद यहां 100 से अधिक केस हो गए हैं। इनमें कुछ ठीक भी हो गए हैं।

मंडी अटेली में कोरोना से पिछले 7 दिनों में 7 मौत होने के बाद शुक्रवार कस्बे में पालिका की ओर से सेनिटाइज अभियान चलाया गया। चेयरमैन जितिन अग्रवाल व नपा सचिव प्रदीप कुमार ने बताया कि पहले भी सेनिटाइज किया जाता रहा है, लेकिन पिछले दो दिनों से सभी कार्यालयों व दूसरे स्थानों में सेनिटाइज किया गया।

बाछौद पीएचसी में 65 संक्रमित केसों में भूषण कला 16 में, फतेहपुर में 18 में, कुंजपुरा 2, तिगरा में 3, सराय 8, खोड़ 3 प्रमुख हैं। दुबलाना गांव में अधिक कोरोना के संक्रमित केस मिलने के बाद लोकनिर्माण विभाग की सड़क भवन निर्माण शाखा के जेई जितेंद्र शर्मा, सुपरवाइजर राजेंद्र प्रसाद, कपिल, सुधीर, विकास, हेमंत ने कंटेनमेंट जोन में बेरिकेड्स लगाकर लोगों की आवाजाही बंद करवाई।

वहीं सिहमा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में संक्रमित केस शुक्रवार को 106 आए। इसके अंतर्गत नसीबपुर जेल में 160 व 135 केस आने के बाद स्वास्थ्य विभाग के लिए चुनौती बना हुआ है। केंद्र के अधीन नूनी कला में 18, सिहमा गांव में 6, सलूनी में 13, सिलारपुर मे 31, अकबपुर नांगलिया में 7, खामपुरा में 4, डेरोली अहीर में 4, हाउसिंग बोर्ड में 3 व अन्य गांवों में एक-एक संक्रमित केस मिला है। अटेली सीएचसी के एसएमओ डॉ. आदित्य यादव ने बताया कि कोरोना के संक्रमण पर लॉकडाउन व स्वास्थ्य विभाग की दिन-रात मेहनत से संक्रमण में कुछ कमी आ रही है।

इस समय खास एहतियात की जरूरत हैं। किसी भी व्यक्ति को बुखार, खांसी, दस्त आदि हो तो जरूर सैंपल करवाये ताकि संक्रमण का पता चल सके तथा चेन को तोड़ा जा सके। लोग स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन करें।

खबरें और भी हैं...