अपराधियों के हौसले बुलंद:मिष्ठान भंडार में घुसकर की तोड़फोड़, 12 हजार लूटने व 3 लाख रुपए की मिठाइयां खराब करने के आरोप

मंडी अटेली2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
तोड़फोड के बाद टूटी दुकान। - Dainik Bhaskar
तोड़फोड के बाद टूटी दुकान।
  • हमलावरोंं ने 5 लाख रुपए की फिरौती मांगी, केस दर्ज कर जांच में जुटी पुलिस
  • लाठी-डंडों से लैस बदमाशों ने एक साल में तीसरी बार बोला धावा

बुधवार रात एक मिष्ठान भंडार पर अज्ञात लोगों ने तोड़-फोड़ की। इस पर 5 साल पहले भी फिरोती मांगने को लेकर हवाई फायर किए गए थे। पुलिस ने रात को मौका मुआयना कर 8-10 के खिलाफ मामला दर्ज किया। तोड़फोड़ की वारदात सीसीटीवी में कैद हो गई हो गई है। एक साल में इस दुकान पर यह तीसरी घटना हुई।

हालांकि इससे प्रवासी प्रतिष्ठान मालिक दहशत में है, फिर भी उसका कहना है कि वह अटेली छोड़कर नहीं जाएंगे। जानकारी के अनुसार रात पौने 10 बजे के करीब बुधवार रात्रि को एक कैंपर रेवाड़ी की ओर आई। उसमें बैठे करीब 8 से 10 युवकों ने एक मिष्ठान प्रतिष्ठान की रैकी की। उसके बाद कैंपर में बैठे दूसरे अपने साथियों को बुलाया। इसके बाद रॉड, लाठी से हमला कर दिया। हमलावरों ने पिस्टल को दिखाते हुए 5 लाख रुपए की फिरौती मांगते हुए कर्मचारियों से कहा कि अपने सेठ को व्यवस्था को बोल देना।

थाने में दी शिकायत में धर्मपाल व पृथ्वीराज ने बताया कि हमलावरों ने प्रतिष्ठान पर तोड़-फोड़ करने के बाद कहा कि अगर 5 लाख रुपए दीपावली से पहले नहीं पहुंचाए तो अंजाम बुरा से बुरा होगा। प्रतिष्ठान के मालिक भगवानराज पुरोहित ने बताया कि हमारी दुकान पर एक साल में यह तीसरी घटना है।

इससे पहले धुलंडी वाले दिन 30 मार्च को तोड़-फोड़ हुई थी, जिसमें करीब ढ़ाई से तीन लाख रुपए का नुकसान हुआ था। उन्होंने कहा कि उनके प्रतिष्ठान पर बार-बार इस तरह की वारदात होने से बेखौफ बदमाश हमें डराने का प्रयास कर रहे हैं लेकिन कुछ भी जाये, अटेली नहीं छोडूंगा।

ना किसी को फिराैती दूंगा। अटेली कस्बे के व्यापारियों ने मेरा पहले भी साथ दिया था, बुधवार रात की घटना के बाद भी साथ दे रहे हैं। इस कारण मेरा मनोबल बना हुआ है। मिष्ठान भंडार मालिक राजस्थान के बीकानेर का रहने वाला है।

फुटेज से की जाएगी बदमाशों की पहचान

थाना प्रभारी राजेंद्र ने बताया कि पुलिस सीसीटीवी में कैद वारदात पर नजर रखकर हमलावरों की पहचान कर रही है। मिष्ठान भंडार मालिक को जो नुकसान हुआ है, उसकी भरपाई करवाने के अलावा मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। पुलिस ने हमलावरों को गिरफ्तार करने के लिए दो टीम गठित की हुई है, जो छापामारी कर रही है।

खबरें और भी हैं...