बिल्कुल बर्दाश्त नहीं:सदियों पुराने राजपूताना गौरवशाली इतिहास के साथ साजिश बर्दाश्त नहीं

महेंद्रगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • अनर्गल बेतुके व झूठे इतिहास को क्षत्रिय समाज बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगा

गांव अनंगपुर फरीदाबाद में गुर्जर समाज के कुछ लोगों की ओर से 8 अगस्त को क्षत्रिय सम्राट महाराज अनंगपाल तोमर द्वितीय व सम्राट प्रतिहार मिहिर भोज की प्रतिमा का अनावरण किया जा रहा है। ऐसा करके ये लोग क्षत्रिय समाज की विरासत, इतिहास और धरोहर की ना केवल चोरी कर रहे हैं, बल्कि सदियों पुराने राजपूताना गौरवशाली इतिहास के साथ भी एक बेहद जटिल साजिश व सामाजिक सद्भावना को छिन्न-भिन्न करने की नाकाम कोशिश की जा रही है।

शनिवार को शहर के एक निजी होटल में राजपूत समाज के प्रबुद्धजन सुभाष परमार, राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना के जिला अध्यक्ष नरेश सिंह खुराना, रूद्र पाल सिंह तंवर, भूपेंद्र सिंह तंवर, अशोक सिंह शेखावत, रविंद्र सिंह तंवर ने बैठक कर ये बातें कही। बैठक में उपस्थित समाज के लोगों ने कहा कि इस तरह के अनर्गल बेतुके व झूठे इतिहास को क्षत्रिय समाज बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेगा। इतिहास अपने आप में पूर्णतया महाकाव्य व अनेक साक्ष्यों के साथ ऐतिहासिक विरासत के साथ मौजूद है। जिस तरह से एक समाज के कुछ तथाकथित बंधु झूठ के सहारे युवाओं को भड़काने व बरगलाने की नाकाम कोशिश कर रहे हैं, वह पूर्णतया गलत है। जिस तरह से कुछ दिन पहले एक अन्य समाज के कुछ बंधुओं ने हिंद की सेना के अहम हिस्से राजपूत रेजीमेंट और जाट रेजीमेंट के बारे में जो गलत बयान बाजी की व देशद्रोही की श्रेणी में तो आती ही है साथ में देश और समाज में विघटन कारी ताकतों को भी बढ़ावा देती है। राजपूत समाज प्रदेश के साथ-साथ देश के शीर्ष नेतृत्व से मांग करता है कि इस प्रकरण को संज्ञान में लेकर तुरंत उचित कार्रवाई करें अन्यथा राजपूत समाज अपने पूर्वजों द्वारा बहाए गए रक्त के कारण मिली विरासत व धरोहर और राष्ट्रीय गौरव के लिए आर-पार की बाजी लगाने से भी पीछे नहीं हटेंगा।

खबरें और भी हैं...