पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

सामाजिक संगठनों ने उठाए सवाल:महेंद्रगढ़ की तहसील रहे दादरी को जिला बनाया, हांसी और गोहाना पर भी विचार फिर महेंद्रगढ़ में मुख्यालय क्यों नहीं?

महेंद्रगढ़4 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

महेंद्रगढ़ को जिला मुख्यालय बनाने की मांग लगातार जोर पकड़ रही है। 51 दिन से यहां आंदोलन चल रहा है और मंगलवार को चक्का जाम कर मांग उठा रहे लोगों ने चेता भी दिया कि वे इस मांग से पीछे नहीं हटने वाले हैं। इसी बीच महेंद्रगढ़ के विकास के लिए दर्जनों चिट्‌ठियां सरकार को भेजने वाले दक्षिण हरियाणा विकास लोकमंच ने भी शहर के पिछड़ेपन पर सवाल उठाए हैं।

लोकमंच के महासचिव प्रो. रणबीर सिंह ने कहा कि सरकार ने चरखी दादरी जैसे जिले भी बनाए हैं, जो कि कभी महेंद्रगढ़ का ही हिस्सा रहे हैं। इसके अलावा हांसी और गोहाना तक को जिला बनाने पर विचार किया गया है। महत्वपूर्ण ये है कि सरकार छोटे जिले बनाने के पीछे विकास का तर्क देती है। ऐसे में क्या विकास का अधिकार महेंद्रगढ़ को नहीं है।

लोकमंच ने सुझाव भी रखा कि यदि सरकार एकदम से नारनौल में स्थापित जिला मुख्यालय के दफ्तरों को तोड़कर महेंद्रगढ़ में लाने को मुश्किल काम मानती है तो फिर क्यों ने नारनौल को ही अलग कर महेंद्रगढ़ को उसका हक दिया जाए। दादरी जैसे जिलों को देखें तो महेंद्रगढ़ इसकी शर्तें भी पूरी करता है।

चरखी दादरी...

5 लाख आबादी, डेढ़ सौ पंचायतें, महेंद्रगढ़ में दोनों दोगुना : वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार चरखी दादरी जिले की आबादी करीब 5 लाख है। यहां पंचायतें भी करीब डेढ़ सौ के आसपास हैं। दादरी में 172 गांव है। इसकी तुलना में महेंद्रगढ़ में आबादी 10 लाख से ज्यादा हो चुकी है। गांवों की संख्या भी पौने 400 है।

तहसीलें विकसित हुईं, महेंद्रगढ़ को छोड़ते गए : लोकमंच का कहना है कि वर्ष 1972 में पूर्व सीएम बंसीलाल ने भिवानी के विकास के लिए अलग जिला बनाया। उस समय चरखी दादरी सबसे पुराने जिलों में शामिल महेंद्रगढ़ जिले के अंतर्गत आती थी। चरखी दादरी को भिवानी में मिला लिया। वर्ष 1989 में महेंद्रगढ़ से अलग होकर रेवाड़ी भी जिला बना दिया और आज रेवाड़ी सक्षम जिलों में हैं। मुखिया रहा महेंद्रगढ़ आज भी अपने विकास की लड़ाई लड़ रहा है।

प्रो. रणबीर सिंह ने कहा- इलाके को राजनीतिक मजबूती की जरूरत उत्तरी हरियाणा में जो विधायक, मंत्री, मुख्यमंत्री सत्ता में आए, उन्होंने अपने इलाके का विकास कराया, क्योंकि वो समझते हैं कि काम होंगे तो जनता के बीच और मजबूत होंगे। लेकिन यहां इलाका राजनीतिक रूप से कमजोर रहा।

पहचान बनी तो सिर्फ यहां की शिक्षण संस्थानों की बदोलत। अब जिला मुख्यालय भी यहां आ जाए तो क्षेत्र की कायापलट हो सकती है। इलाके को राजनीतिक मजबूती और जनप्रतिनिधियों की इच्छा शक्ति की जरूरत है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज कई प्रकार की गतिविधियां में व्यस्तता रहेगी। साथ ही सामाजिक दायरा भी बढ़ेगा। आप किसी विशेष प्रयोजन को हासिल करने में समर्थ रहेंगे। तथा लोग आपकी योग्यता के कायल हो जाएंगे। कोई रुकी हुई पेमेंट...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser