पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लापरवाही:लाइन शिफ्टिंग का 10 % पेंडिंग काम डेढ़ साल में भी पूरा नहीं करवा पाया बिजली निगम

महेंद्रगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महेंद्रगढ़ में गिरने की अवस्था में बिजली का पोल। - Dainik Bhaskar
महेंद्रगढ़ में गिरने की अवस्था में बिजली का पोल।
  • लाइन शिफ्ट करने में निगम नहीं ले रहा रुचि, डेढ़ वर्ष से लोग निगम में दे रहे हैं शिकायत
  • महेंद्रगढ़-दादरी रोड पर 11 केवी लाइन का 90 प्रतिशत कार्य पहले से पूरा

महेंदगढ़-दादरी रोड पर लाइन शिफ्ट करने का कार्य डेढ़े वर्ष बाद भी अधूरा है। कार्य को निगम द्वारा पूरा नहीं करवाए जाने से जहां लोगों को परेशानियां आ रही है, वहीं हादसों की आशंका भी बनी हुई है। इस समस्या के समाधान के लिए एक से डेढ़ वर्ष से लोग निगम को शिकायत लगाते आ रहे हैं, परंतु अभी तक समस्या के समाधान को लेकर निगम द्वारा कोई कारगर कदम नहीं उठाए जा रहे हैं।

11 केवी पाली फिडर को शिफ्ट करने के काम का वर्क आउट 16 सितंबर 2019 को था। जिसका वर्क आउट तरूण इलेक्ट्रिकल्स कंपनी को दिया गया था, लेकिन डेढ़े वर्ष बाद भी लाइन का काम पूरा नहीं हुआ है। 90 प्रतिशत काम पूरा होने के बाद भी 10 प्रतिशत काम में करीब डेढ़ वर्ष लगा दिए।

इस काम को पूरा करने के लिए डीसी ने 29 जनवरी को नायब तहसीलदार महेंद्रगढ़ को डयूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किया था, लेकिन आज तक काम पूरा नहीं हुआ। कंपनी द्वारा लगाए पोल गिरने की कगार पर हैं। जिससे कभी भी कोई बड़ा हादसा हो सकता है।

शहर के बलवान सिंह, मनोहर लाल, देवेन्द्र सिंह, जितेन्द्र सिंह यादव, कुलदीप राव, बिजेंद्र कुमार, धर्मेन्द्र, राजेश कुमार, बाबूलाल, ओमप्रकाश ने बताया कि लाइन के तार कमजोर व बेकार हो चुके हैं। लाइन के तार घरों व स्कूलों से होकर जा रहे हैं। कई बार तार टूट चुके हैं। उन्होंने बताया कि यह लाइन राव तुलाराम चौक से फ्लाईओवर तक शिफ्ट करनी है।

डेढ़ वर्ष बीतने पर भी निगम इस कार्य को पूरा करवाने में कोई रुचि नहीं दिखा रहा है। दोनों साइड की वायर सिर्फ जोड़नी है, पोल व केबल पहले से लग चुकी हैं। कंपनी के प्रोजेक्ट मैनेजर राहुल कुमार ने बताया जहां तक केबल डाली गई थी वहां तक ही बजट अप्रूवल था। अब पूरे की अप्रूवल मिल गई है। इसके अलावा कोविड-19 को लेकर भी काम प्रभावित रहा है। आगामी एक पखवाड़े में कार्य को पूरा होगा।

खबरें और भी हैं...