पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

सुविधा:आज से सरकारी अस्पताल में हाेगी जनरल ओपीडी, परिसर के आपातकालीन भवन में ही लगेगी

महेंद्रगढ़13 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सरकारी अस्पताल में लंबे समय से बंद जनरल ओपीडी आज से शुरू हाेगी। सुबह 8 से दाेपहर दाे बजे तक चिकित्सक आम लाेगाें की जांच के लिए बैठेंगे। आम लाेगाें के लिए विभाग की तरफ से दाेबारा से शुरू हाेने वाली यह सेवा सरकारी अस्पताल के आपातकालीन भवन में हाेगी।

सरकारी अस्पताल का पुराना भवन पूरी तरह से जर्जर हाे गया था। इस भवन की जगह बहुमंजिला नये भवन का निर्माण कार्य शुरू हाेने से पूर्व पुराने भवन काे ताेड़ा जा रहा है। इससे लंबे समय से विभाग के अधिकारियों की तरफ से जनरल ओपीडी व अन्य स्वास्थ्य सेवाओं काे जारी रखने के लिए अस्थाई भवन देखा जा रहा था। क्योंकि पहले पुराने भवन काे ताेड़ने व बाद में 6 मंजिला नए भवन के निर्माण में विभाग के अधिकारियों की तरफ से अंदाजा लगाया जा रहा था कि करीब-करीब दाे से ढाई साल का समय इसके लिए लगेगा।

ऐसे में इतने लंबे समय तक स्वास्थ्य सेवाओं काे बाधित नहीं किया जा सकता। सरकार ने महेंद्रगढ़ में मौजूदा सरकारी अस्पताल भवन काे ताेड़ कर 100 बेड के अस्पताल बनाने की मंजूरी दी है। यह भवन छह मंजिला बनेगा। करीब 28 कराेड़ रुपए से बनने वाले इस भवन की पूर्व शिक्षा मंत्री प्राे. रामबिलास शर्मा ने सरकार से मंजूरी दिलाई थी। 14 सितंबर 2019 काे इसके निर्माण के लिए आधारशिला रखी थी।

चिकित्सक क्वार्टर में हाेंगे वार्ड व लैब, आपातकालीन भवन में हाेगी जनरल ओपीडी

पुराने महिला काॅलेज भवन के निरीक्षण के बाद विभाग के उच्चाधिकारियों ने मौजूदा समय में अस्पताल परिसर में ही आपातकालीन भवन में स्वास्थ्य सेवाओं काे जारी रखने का फैसला िकया। इसके लिए परिसर में चिकित्सकों के लिए बने क्वाटर जाे खाेली है।

उनमें वार्ड, लैब आदि बनाने व आपातकालीन भवन में ही चिकित्सकों के बैठने के लिए कैबिन की व्यवस्था करने का निर्णय लिया। आपातकालीन सेवा भवन के पास ही चिकित्सकों के करीब 10 क्वाटर हैं। ये सभी खाली है। इनमें से चार क्वाटर बड़े हैं, जबकि छह छाेटे है। विभाग की तरफ से बड़े क्वाटर में वार्ड बनाए गए हैं, जबकि छाेटे क्वाटर में एक्स-रे मशीन व लैब आदि की व्यवस्था की गई है।

पुराने महिला काॅलेज भवन काे विकल्प के रूप में देखा, उच्चाधिकारियों ने नकारा : नए भवन के निर्माण हाेने तक अस्पताल के लिए विभाग की तरफ से शहर में खाली पड़े पुराने महिला काॅलेज भवन काे विकल्प के रूप में चयनित किया गया था। बाद में इस भवन के निरीक्षण के बाद उच्चाधिकारियों ने नकार दिया था। इसके पीछे स्वास्थ्य विभाग के सीएमओ का तर्क था कि यहां अस्पताल काे सुचारू रूप से खर्च करने के लिए काफी अधिक बजट की जरूरत है। ऐसे में यह जगह उपयुक्त नहीं है।

^माैजूदा अस्पताल परिसर में बने आपातकालीन सेवा भवन में ही साेमवार से जनरल ओपीडी शुरू हाेंगी। लाेगाें काे अन्य जगह ना जाना पड़े इसके उच्चाधिकारियों ने यह निर्णय लिया है। पुराने भवन के ताेड़ने के कारण स्वास्थ्य सेवाओं काे जारी रखने में थाेड़ी बहुत परेशानी हाेगी, लेकिन लाेगाें की सुविधाओं काे देखते हुए मौजूदा भवन में ही सभी सेवाएं जारी रखने का फैसला लिया गया है। -डाॅ. कंवर िसंह, एसएमओ महंेद्रगढ़।

खबरें और भी हैं...