आत्महत्या का मामला:ड्राइवर ने फंदा लगा दी जान,15 दिनों से घर पर ही खाली बैठा था

महेंद्रगढ़16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

गांव बावनिया में एक व्यक्ति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने मृतक की पत्नी के बयान पर कार्रवाई करते हुए शव का महेंद्रगढ़ के नागरिक अस्पताल में पोस्टमार्टम करवा परिजनों को सौंप दिया। पुलिस के अनुसार गांव बावनिया निवासी निर्मल पत्नी प्रमोद कुमार ने दिए बयान में बताया कि उसका पति बाहर गाड़ियों पर ड्राइवरी का काम करता था जो करीब 10-12 दिन से घर पर ही था।

बीती रात 11 बजे घर पर आकर सो गया था। सुबह करीब 5 बजे पशु बांधने के लिए उठी तो देखा कि उसका पति टीन शेड पर रस्सी से लटका हुआ था। शोर मचाने पर उसके बच्चे, परिवार के अन्य सदस्य व पड़ोसी आ गए और उसे रस्सी से खोल कर उतारा जिसकी मृत्यु हो चुकी थी। महिला ने बयान में कहा कि उसके पति ने नौकरी छूटने के अज्ञात कारणों के चलते फांसी लगाकर आत्महत्या की है।

खबरें और भी हैं...