एचटेट की परीक्षा:एचटेट की परीक्षा के लिए गृह जिले में परीक्षा केन्द्र बनाए जाने से परीक्षार्थियों में खुशी

महेंद्रगढ़एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

प्रदेश में तीसरी बार गृह जिले में एचटेट की लिखित परीक्षा के लिए परीक्षा केन्द्र बनाए जाने से परीक्षार्थियों में खुशी की लहर है। परीक्षार्थियों ने हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के इस सराहनीय कदम की सराहना की तथा उन्होंने एचएसएससी को भी हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड के इस कदम से सीख लेते हुए विभिन्न पदों की लिखित परीक्षार्थियों 200 से 300 किलोमीटर दूर बनाने की बजाय गृह जिला नहीं तो पड़ोस के जिले में ही परीक्षा केन्द्र बनाए जाने की मांग दोहराई। सभी परीक्षार्थियों के एडमिट कार्ड जारी कर दिए गए हैं। करीब दो हजार आवेदकों के एडमिट कार्ड बोर्ड द्वारा आवेदक की फोटो, अंगूठे के निशान, हस्ताक्षर व अन्य कमियों के चलते रोके गए जिनमें करीब एक हजार ने मंगलवार को अंतिम तिथि तक कमियों को दुरुस्त करवा एडमिट कार्ड प्राप्त कर लिए।

यह रहेगा एचटेट परीक्षा का शेड्यूल
एचटेट लेवल 3 पीजीटी के लिए परीक्षा 18 दिसंबर को शाम के सत्र में 3 से 5 बजे तक होगी इसके लिए प्रदेश में 244 परीक्षा केन्द्रों पर 70,733 परीक्षार्थी जबकि महेंद्रगढ़ में 19 परीक्षा केंद्रों पर 5604 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। लेवल 2 टीजीटी के लिए परीक्षा 19 दिसंबर को सुबह के सत्र में सुबह 10 से 12.30 तक होगी। इसके लिए प्रदेश में 267 परीक्षा केन्द्रों पर 77,510 तथा महेंद्रगढ़ में 21 परीक्षा केंद्रों पर 6230 परीक्षार्थी तथा लेवल-1 पीआरटी के लिए एचटेट की परीक्षा 19 दिसंबर को ही शाम के सत्र में 3 से 5.30 बजे तक होगी। इसके लिए बोर्ड प्रशासन ने प्रदेश के विभिन्न जिलों में 140 परीक्षा केंद्रों पर 39,708 परीक्षार्थी तथा महेंद्रगढ़ में 11 परीक्षा केंद्रों पर 3181 परीक्षार्थी परीक्षा देंगे। 18 व 19 दिसंबर को दो दिनों में महेंद्रगढ़ जिले में तीनों लेवल की परीक्षा में 15 हजार से अधिक परीक्षार्थी बैठेंगे।

बाई आंख की होगी स्क्रीनिंग
बायोमेट्रिक के माध्यम से सभी परीक्षार्थियों की बाई आंख की स्क्रीनिंग की जाएगी। किसी परीक्षार्थी की बाई आंख नहीं है तो दाई आंख की स्क्रीनिंग की जानी है। नेत्रहीन परीक्षार्थी जिन की दोनों आंखें नहीं है उस अवस्था में परीक्षार्थी के बाएं हाथ के अंगूठे का निशान लिया जाएगा। नेत्रहीन वह अशक्त परीक्षार्थियों को 20 मिनट प्रति घंटा के हिसाब से कुल 50 मिनट परीक्षा में अतिरिक्त दिए जाएंगे।

महिला परीक्षार्थियों को इनमें छूट
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड द्वारा स्टेट परीक्षा को लेकर जारी गाइडलाइन के अनुसार महिला परीक्षार्थियों को परीक्षा के दौरान मंगलसूत्र पहनने बिंदी व सिंदूर लगाने की छूट रहेगी परंतु अन्य किसी प्रकार जैसे अंगूठी, चेन, कान व नाक की बालियां, हार, लटकन, नोज पिन, ब्रोच इत्यादि जैसे सभी गहने, किसी भी धातु की वस्तु, कोई इलेक्ट्राॅनिक उपकरण जैसे मोबाइल फोन, पेजर, ब्लूटुथ, ईयर फोन, कैल्कुलेटर, घड़ी, पर्स, लॉग टेबल, हेल्थ बैण्ड, प्लास्टिक पाऊच, रिक्त या मुद्रित कागज एवं लिखित चिट इत्यादि लेकर जाने की अनुमति नहीं है। किसी भी वस्तु को परीक्षा केन्द्र पर रखने की व्यवस्था नहीं होगी। परीक्षा केन्द्र के अंदर यदि इस प्रकार की सामग्री किसी परीक्षार्थी के पास मिलती है तो उसका यूएमसी बनाने के साथ-साथ उस पर केंद्र अधीक्षक द्वारा एफ आई आर भी दर्ज करवाई जाएगी।

जिले में यहां बनाए परीक्षा केंद्र
महेंद्रगढ़ जिले में हरियाणा बोर्ड शिक्षा द्वारा कुल 21 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं जिनमें 7 परीक्षा केंद्र नारनौल तथा 14 परीक्षा केंद्र महेंद्रगढ़ के शिक्षण संस्थानों में बनाए गए हैं। नारनौल में राजकीय कॉलेज रेलवे रोड में 3 परीक्षा केन्द्र, राजकीय महिला कॉलेज बहरोड़ रोड में 2, यदुवंशी कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी रेवाड़ी रोड पटीकरा में एक, सीएल पब्लिक स्कूल हुड्डा सेक्टर नारनौल में एक परीक्षा केंद्र बनाया गया है। उधर महेंद्रगढ़ में गवर्नमेंट कॉलेज बॉयज नारनौल रोड में 2, गवर्नमेंट कॉलेज फॉर वूमेन नारनौल रोड में एक, संस्कार भारती डिग्री कॉलेज दादरी रोड पाली में एक, गुरु कॉलेज ऑफ एजुकेशन नियर लघु सचिवालय में एक, सूरज डिग्री कॉलेज बुचोली रोड में एक, राव पहलाद सिंह इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलॉजी कॉलेज सतनाली रोड बलाना में 4, हैप्पी एवरग्रीन सीनियर सेकेंडरी स्कूल डुलाना रोड में 2, केडी डिग्री कॉलेज नियर सेंट्रल यूनिवर्सिटी पाली में एक, बीजेआरडी पब्लिक स्कूल दादरी रोड पाली में एक परीक्षा केंद्र बनाया गया है।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी द्वारा तीसरी बार प्रदेश में एचटेट की परीक्षा गृहजिले में होने जा रही है। परीक्षा के आयोजन को लेकर सभी तैयारियां पूरी कर ली गई है। परीक्षा के नकल-विहीन एवं सुव्यवस्थित संचालन के लिए 149 प्रभावशाली उडऩदस्तों का गठन किया गया है। प्रत्येक परीक्षा केन्द्र पर एक-एक बोर्ड कर्मचारी, प्रतिनिधि एवं उपायुक्त द्वारा नामजद एक-एक प्रशासनिक, राजपत्रित अधिकारी को ऑब्जर्वर नियुक्त किया गया है। परीक्षार्थी भी एडमिट कार्ड पर दी गई गाइडलाइन का पालन करते हुए परीक्षा में भाग लें।
-प्रो. जगबीर सिंह, चेयरमैन, हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड भिवानी।

खबरें और भी हैं...