नायब तहसीलदार ने किसानों को दिया आश्वासन:छह दिनाें से नहीं मिल पा रहा डीएपी खाद आक्रोशित किसानों ने रेलवे रोड किया जाम

महेंद्रगढ़2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
महेंद्रगढ़ में खाद नहीं मिलने पर रेलवे रोड पर जाम लगाकर विरोध जताते किसान। - Dainik Bhaskar
महेंद्रगढ़ में खाद नहीं मिलने पर रेलवे रोड पर जाम लगाकर विरोध जताते किसान।

शहर के रेलवे रोड स्थित सोसायटी कार्यालय में खाद नहीं मिलने के कारण गुस्साए किसानों ने बुधवार शाम करीब सवा तीन बचे जाम लगा दिया। करीब एक घंटे चले जाम के कारण पुलिस की सतर्कता से इस मार्ग पर जाम की स्थिति तो नहीं बनी, परंतु व्यापारी व आम लोग परेशान रहे।

शहर थाना प्रभारी के जाम खुलवाने के प्रयास सफल नहीं हुए तो नायब तहसीलदार नरेश कुमार ने मौके पर पहुंचकर विभाग के उच्च अधिकारियों से बात कर किसानों को गुरुवार सुबह 9 बजे डीएपी खाद उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया तो किसानों ने जाम खोल दिया। इसके साथ ही किसानों ने चेतावनी दी कि यदि उन्हें बराबर खाद नहीं मिला तो इसके लिए प्रशासन जिम्मेदार रहेगा।

6 दिन से साेसायटी के चक्कर लगा रहे किसान
क्षेत्र के अलग-अलग गांवों से सोसायटी कार्यालय से खाद लेने के लिए आए किसानों ने बताया कि वे लगातार 6 दिनों से सोसायटी कार्यालय के चक्कर लगा रहे हैं। इससे उन्हें न केवल आर्थिक बल्कि मानसिक परेशानियों का सामना भी करना पड़ रहा है। साथ ही उनका समय भी खराब हो रहा है।

सोसायटी कार्यालय के अधिकारियों का एक ही जवाब मिल रहा है कि उन्हें उच्च अधिकारियों को अवगत करवा दिया है परंतु खाद कब मिलेगी इसका जवाब नहीं मिला। बीते दिनों की तरह बुधवार को भी वे सुबह से सोसायटी के दर पर खाद के लिए भूखे-प्यासे खड़े रहे परंतु खाद मिलने को लेकर कोई संतोषजनक जवाब उन्हें नहीं मिला।

दोपहर बाद टूट पड़ा सब्र का बांध

सोसायटी कार्यालय के बाहर खड़े किसानों को जब दोपहर तक खाद नही मिली जो उनके सब्र का बांध टूट गया और उन्होंने सोसायटी कार्यालय के सामने रेलवे रोड पर बैठकर जाम लगा दिया। शाम करीब सवा तीन बजे लगे जाम के चलते इस मार्ग से आवागमन बंद हो गया।

सूचना मिलने पर शहर थाना प्रभारी दीपचन्द मौके पर पहुंचे तथा जाम लगा रहे किसानों को समझाने का प्रयास किया, परंतु किसानों ने दो टूक कह दिया कि जब तक उन्हें खाद नहीं मिलेगा तब तक वे जाम नहीं खोलेंगे। इसके बाद थाना प्रभारी इस मार्ग पर वाहनों का जाम ना लगे इसके लिए उन्होंने इस मार्ग के रुट को डाइवर्ट कर दिया। परंतु इस व्यस्तम मार्ग के व्यापारियों, निवासियों व विद्यार्थियों को भी परेशानियों का सामना करना पड़ा।

नायब तहसीलदार के आश्वासन पर खोला जाम
थाना प्रभारी के समझाने के बाद जब किसान नहीं माने तो नायब तहसीलदार नरेश कुमार मौके पर पहुंचे तथा किसानों को समझाने का प्रयास किया। जिस पर किसानों ने कहा कि उन्हें खाद चाहिए, खाद उपलब्ध करवा दो तो जाम खोल देंगे। इस पर उन्होंने विभाग के संबंधित उच्च अधिकारी से बात कर उन्हें सुबह 9 बजे खाद उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया। इस आश्वासन के बाद किसानों ने जाम खोल दिया।

हिसार से पहुंचे है 400 कट्टे डीएपी खाद : जगराम यादव
हैफेड मैनेजर जगराम यादव ने बताया कि रेक नहीं लगने के कारण डीएपी की कमी हुई है। उच्च अधिकारी लगातार खाद की उपलब्धता के लिए प्रयासरत है। देर शाम को सोसायटी कार्यालय में हिसार से 400 कट्टे खाद पहुंच गया है। जिसे उतारकर मशीन में फीड करने के बाद गुरुवार को वितरण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि खोरी में भी शीघ्र रेक लगने की उम्मीद है इसके बाद किसानों को खाद की कोई कमी नहीं रहेगी। -जगराम यादव, हैफेड मैनेजर।

खबरें और भी हैं...