पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कैंप का आयोजन:एंटीजन टेस्ट की रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद 424 लोगों ने किया रक्तदान

नांगल चौधरी18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • गोठड़ी में लगे शिविर में युवाओं ने बढ़-चढ़कर किया ब्लड डोनेट

गांव गोठड़ी में लगाए गए रक्तदान शिविर में 424 यूनिट रक्त एकत्र किया गया। इस दौरान ग्रामीणों को सामाजिक बुराइयां मिटाने की शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम की अध्यक्षता निवर्तमान सरपंच के प्रतिनिधि रामकरण कसाना ने की। पंचायत समिति के पूर्व सदस्य बिरेंद्र गोठड़ी के जन्मदिन पर आयोजित कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि दुर्घटनाग्रस्त लोगों को सर्वप्रथम रक्त की जरूरत होती है, जिसकी पूर्ति दवाइयों से संभव नहीं हो सकती।

इस दौरान डोनेट किया गया रक्त इस्तेमाल करना एकमात्र विकल्प रहता है, लेकिन कई लोगों में रक्तदान को लेकर विभिन्न भ्रांतियां बनी हुई हैं। जबकि ब्लड डोनेट करने से शरीर में किसी भी प्रकार की दुर्बलता नहीं आती, बल्कि रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है, साथ ही हार्ट अटैक की संभावना कम हो जाएगी। तीन महीने में दुबारा ब्लड डोनेट कर सकते हैं।

यह खून दुर्घटनाग्रस्त व प्रसव पीड़िताओं को नि:शुल्क को मुहैया कराया जाएगा। क्योंकि सड़क दुर्घटना में 70 प्रतिशत घायलों की मौत खून उपलब्ध नहीं होने से होती है। इससे पहले रक्तदान करने के इच्छुक युवाओं का कोरोना एंटीजन टेस्ट किया। निगेटिव की पुष्टि होने पर अन्य चेकअप किए गए। कैंप में 45 यूनिट जिला रेडक्रॉस सोसायटी ने एकत्र की। इसके अलावा 379 यूनिट निम्स मेडिकल कॉलेज जयपुर व पल्स अस्पताल की टीम ने लिए।

खबरें और भी हैं...