पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

दशहरा का उल्लास:बुराइयों के खिलाफ संघर्ष करने की प्रेरणा देता है दशहरा

नांगल चौधरीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • महेंद्रगढ़ में राम-रावण की सेनाओं के बीच हुए युद्ध के दृश्य ने किया रोमांचित, नारनौल में निकाली मनमोहक झांकी

जिले में चुनिंदा जगहों पर ही बुराई के प्रतीक रावण का पुतला दहन किया गया। नारनौल में पुतला दहन कार्यक्रम से पूर्व शहर में देर शाम श्री आदर्श सनातन धर्म ड्रामेटिकल क्लब ने शहर के पुल बाजार से शोभा सागर तक भगवान राम का विजय जुलूस निकाला।

नांगल चौधरी में आर्य समाज कमेटी ने प्रधान राजकुमार जांगड़ा की अगुवाई में हवन कार्यक्रम किया, जिसमें जगदीश मुनि और खानपुर गुरुकुल के आचार्य सेवानंद मौजूद रहे।

उन्होंने हवन में संपूर्ण आहुति डालने के बाद दशहरे की महत्ता से अवगत कराया। उन्होंने कहा कि भारतीय संस्कृति धार्मिक उत्सवों को हर्षोल्लास से मनाने की परंपरा है, क्योंकि इनसे समाज को सीखने और संकल्प लेने की प्रेरणा मिलती है। दशहरा उत्सव से समाज में फैली बुराइयों से संघर्ष करने की नसीहत मिलती है।

दीपावली से समाज को एकजुट रहने और आपस की खुशियों को मिलकर मनाने का संदेश मिलेगा। होली पर लोगों को दुश्मनी भुलाकर साथ रहने की प्रेरणा मिलती है। रक्षाबंधन से सामजिक मर्यादाओं की रक्षा करने की ताकत मिलती रहेगी।

लेकिन पश्चिमी देशों की संस्कृति के प्रभाव से युवा वर्ग अपनी संस्कृति को भूलने लगे हैं। जिस कारण लूट-खसोट व महिलाओं के साथ अभद्रता के मामले बढ़ गए। रोकथाम के लिए आर्य समाज ने गांवों में हवन व स्वदेशी संस्कृति के प्रचार की योजना बनाई है। युवाओं को महापुरुषों की जीवनी से अवगत करवाकर अनुसरण के लिए प्रेरित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि एक-दूसरे में बुराइयां खाेजने वाले मनुष्य तरक्की नहीं कर सकते, क्योंकि उनमें नकारात्मक विचारों का संचार हो जाता है, जिस कारण वे संघर्ष नहीं कर पाते।

भगवान श्रीराम ने रावण होते हुए भी उनके पास लक्ष्मण को राजनीतिक ज्ञान लेने के लिए भेजा था, जिससे संदेश मिलता है कि अच्छाई कहीं से भी मिले उसे ग्रहण कर लेना चाहिए। इससे पहले उन्होंने हवन में आहुति डालकर समाज और पर्यावरण को स्वच्छ बनाने का संकल्प लिया।

इस मौके पर राधेश्याम, राजेंद्र प्रसाद भुंगारका, दरियाव आर्य, सत्यवीर, डॉ. अमरसिंह मेहरानिया, राजेंद्र आर्य, जयवीर आर्य, कर्ण सिंह, योगेंद्र उपप्रधान, प्रभातीलाल, दयाराम, बिरेंद्र संगठन मंत्री मौजूद रहे।

स्वच्छ वातावरण में बीमारियां नहीं पनप सकती
कार्यक्रम संपन्न होने के बाद आर्य समाज कमेटी ने सफाई अभियान चलाया। पंचायत समिति प्रांगण में झाडू निकालने के बाद प्रधान राजकुमार जांगडा ने कहा कि 80 फीसदी बीमारियां गंदगी से पनपती है, जिनके इलाज पर 50 फीसदी घरेलू बजट खर्च हो जाता है। बावजूद कई लोगों का जीवन नहीं बच पाता। इसलिए समाज को स्वस्थ्य रखने के लिए पर्यावरण को स्वच्छ रखना जरूरी है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- आज व्यक्तिगत तथा पारिवारिक गतिविधियों के प्रति ज्यादा ध्यान केंद्रित रहेगा। इस समय ग्रह स्थितियां आपके लिए बेहतरीन परिस्थितियां बना रही हैं। आपको अपनी प्रतिभा व योग्यता को साबित करने का अवसर ...

और पढ़ें