शिकायत:चोरी के वाहन या संपत्ति खरीदने वाले कबाड़ियाें पर होगी कार्रवाई

नारनौल9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • सभी थाना प्रबंधक व चौकी इंचार्ज अपने क्षेत्र के ऐसे कबाड़ियाें की लिस्ट बनाएगी

महेंद्रगढ़ जिले में चोरी के वाहनों का कटान करने वाले कबाड़ी अब चैन की नींद नहीं सो पाएंगे। वाहन चोरों का साथ देने वाले ऐसे कबाड़ियाें के खिलाफ मामला दर्ज करने के एसपी के निर्देश मिलने के बाद से ही जिले के सभी थानों व चौकियों में उनके इलाके में आने वाले कबाड़ियाें की लिस्ट बननी शुरू हो गई है। एसपी चंद्रमोहन ने बताया कि जिले में चोरी का वाहन खरीदकर उनको काटने वाले सभी कबाड़ियाें के खिलाफ पुलिस कड़ी कार्रवाई करेगी। इसके लिए निर्देश दिए जा चुके हैं।

उन्होंने बताया कि जिले के थाना प्रबंधकों और चौकी इंचार्जों द्वारा वाहन कटान करने वाले कबाड़ियाें की सूची तैयार की जा रही है, जिसके चलते जिले में कोई भी कबाड़ी चोरी का वाहन खरीदकर कटान करता पाया गया या काटने में शामिल पाया गया तो उसे चोरी के मामले में बराबर का दोषी समझकर उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।एसपी चंद्रमोहन ने बताया कि अक्सर वाहन चोर कबाड़ियाें के साथ मिलकर चोरी किए गए वाहन को कटवा देते हैं।

कबाड़ी चोरों से सस्ते दामों पर वाहन खरीद लेते हैं और उनको कटवा देते हैं। पुलिस ने बताया कि अगर जिले के कबाड़ी ऐसा करते हुए पाए जाते हैं तो उनको चोरी के मामलों में समान दोषी समझकर उनके खिलाफ भारतीय दण्ड संहिता की धारा 120-बी के तहत कार्रवाई की जाएगी और ऐसे कबाड़ियाें को चोरी की संपत्ति का व्यापार करने की धारा-413 आईपीसी के तहत कार्रवाई की जाएगी।

भारतीय दंड संहिता की धारा-413 के अनुसार, जो कोई ऐसी संपत्ति, जिसके संबंध में वह यह जानता है कि वह चुराई हुई संपत्ति है, उसे प्राप्त करेगा या उसमें व्यापार करेगा तो उसे सजा होगी। आजीवन कारावास या किसी एक अवधि के लिए कारावास जिसे दस वर्ष तक बढ़ाया जा सकता है और भारतीय दंड संहिता की धारा 120-बी के अनुसार आपराधिक षड्यंत्र में शामिल होने के लिए दंडित किया जाएगा।

खबरें और भी हैं...