कार्रवाई को लेकर आईजी से की मुलाकात:एससी/एसटी एक्ट के तहत दर्ज मामलों में सुनवाई नहीं होने पर जताई नाराजगी

नारनौल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

एससी/एसटी एक्ट के तहत दर्ज अनेक मामलों की नारनौल में सुनवाई न होने की दुहाई देते हुए सर्व अनुसूचित जाति संघर्ष समिति नारनौल के प्रतिनिधिमंडल ने बुधवार को पुलिस महानिरीक्षक के धारूहेड़ा स्थित कार्यालय में पहुंचकर अपनी शिकायत दर्ज करवाई। इसकी जानकारी देते हुए संघर्ष समिति के महासचिव बिरदीचंद गोठवाल ने बताया कि आईजी ने प्रतिनिधिमंडल व पीड़ितों की बात का ध्यानपूर्वक सुना और सभी संगीन मामले न्यायसंगत आधार पर जांच करने का आश्वासन दिया।

उन्होंने नारनौल में चल रहे धरने को भी समाप्त करने के कहा। उन्होंने बताया कि इस मौके पर प्रतिनिधिमंडल ने बताया कि महेंद्रगढ़ की पुलिस जातिगत भेदभाव व दलित विरोधी रवैए के तहत कार्य कर रही है। उन्हें महेंद्रगढ़ पुलिस पर विश्वास नहीं है। सभी पक्षों को गहराई से सुनने के बाद पुलिस महानिरीक्षक द्वारा सभी संगीन 6 केसों तत्परता से कार्रवाई करवाने आदेश दिए। वहीं सभी संगीन मामलों में कार्रवाई का आश्वासन मिलने के बाद संघर्ष समिति द्वारा गत एक सप्ताह से जारी अपना धरना व विरोध प्रदर्शन वापिस लेने का ऐलान भी किया गया।

इस मौके पर समिति के प्रधान चंदन सिंह जालवान, पूर्व तहसीलदार लालाराम नाहर, समिति के पूर्व प्रधान शिवनारायण मोरवाल, मुख्य प्रवक्ता अनिल फांडन, जसवंत भाटी, सुंदरलाल जोरासिया, माड़ूराम, हजारी लाल, गुगन राम, महाबीर, विजेंद्र, पीडि़त अमर सिंह, रमेश कुमार, थावर सिंह, प्रियंका, प्रीतम, चांदराम, हरि सिंह, सरजीत सिंह, राम अवतार भी उपस्थित रहे।

खबरें और भी हैं...