पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

होटल सील:440 केवी की लाइन के नीचे बना होटल जल्द किया जाएगा सील

नारनौलएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • बिना सीएलयू लिए बनी बिल्डिंग और नक्शे के अनुसार निर्माण न होने पर नप ने जारी की नाेटिस

शहर के बाईपास पर नियमों को ताक पर रखकर बेसमेंट समेत 5 मंजिला एक होटल और रेस्टोरेंट बनकर तैयार हो गया और नगर परिषद को इसकी खबर तक नहीं हुई। कमाल यह रहा कि जहां यह बिल्डिंग बनाई गई, उस जमीन के ऊपर से 440 केवी की लाइन गुजर रही है। बिल्डिंग बनाने से पहले सीएलयू भी नहीं करवाई गई। अब तक भवन बनकर तैयार हो गया तो नगर परिषद के अधिकारियों को हरियाणा नगर पालिका एक्ट की धाराएं याद आई ओर तैयार हो चुके रॉयल ट्यूलिप होटल एंड रेस्टोरेट को सील लगाने की तैयारी शुरू कर दी। 

जानकारी के अनुसार नगर परिषद की ओर से शुक्रवार देर शाम शहर के बाईपास पर कुलताजपुर-कोरियावास रोड के बीच बने रॉयल ट्यूलिप होटल के निर्माण में दिए गए नक्शे के विपरीत बनाए गए भवन को सील लगाने के लिए इस भवन के पांच साझेदार को नोटिस जारी किया है। इसमें 7 दिन की अवधि निर्धारित करते हुए 10 जुलाई को भवन सील करने की कार्रवाई किए जाने की सूचना है। मौजूदा समय में होटल व रेस्टोरेंट में बेसमेंट सहित 5 मंजिला भवन बना हुआ है। इसमें स्विमिंग पूल भी है। बताया जा रहा है कि इस बिल्डिंग बनाते समय भू-स्वामियों ने नगर परिषद में जो बिल्डिंग  फाइल जमा करवाई थी, उसमें बताए गए प्लान के विपरीत बिल्डिंग व अन्य सुविधाएं बना दी। जम करवाए गए बिल्डिंग प्लान में इस जमीन पर 998 वर्ग गज पर और 4059 वर्ग गज पर दो अलग-अलग नक्शे और दस्तावेज जमा करवाए गए, किंतु उनके अनुरुप बिल्डिंग नहीं बनाई गई।

इसके बाद नगर परिषद की ओर से 4 फरवरी 2020 को नोटिस संख्या 2750 के तहत इसके मालिकों कुलदीप पुत्र रमेशचंद यादव, नरेंद्र पुत्र मदनलाल, हरीश कुमार पुत्र मदनलाल, दीपक किंगर पुत्र हरीश, राहुल किंगर पुत्र नरेंद्र कुमार को हरियाणा म्युनिसिपल एक्ट 1973 के नियम 208 के तहत नोटिस भेजा गया। इस पर 11 मार्च को जवाब मिला कि भवन नक्शे अनुसार व निर्धारित फीस भरकर ही बनाया गया है जबकि नगर परिषद अधिकारियों का कहना है कि जमा करवाए गए प्लान के अनुसार बिल्डिंग नहीं बनाई गई थी। नप को दो प्लान दिए गए थे जिसमें 998 स्क्वायर मीटर और 4059 स्कवायर मीटर पर दो बिल्डिंग बननी थी, जबकि  6941.59 स्क्वायर मीटर पर एक ही बिल्डिंग बना दी गई।

इसमें 398.95 वर्ग मीटर में बेसमेंट बनाने का प्लान था, जबकि वहां 1013 वर्ग गज यानि निर्धारित प्लान से 614 स्क्वायर मीटर पर निर्माण कर दिया गया। प्लान के हिसाब से पूरी बिल्डिंग में सभी मंजिल 1986.20 वर्ग गज में बनने थी, जबकि निर्माण 2962.82 वर्ग गज में कर दिया गया। यानि 976.62 वर्ग गज पर ज्यादा बिल्डिंग बना दी गई। इसी प्रकार स्वीमिंग पुल और भवन की बाउंड्री बनाने में भी नियमों की अवहेलना की गई। ऐसा करके भवन निर्माताओं ने हरियाणा बिल्डिंग कोड 2017 की अवहेलना की है।

अवहेलना; जमीन के ऊपर से गुजर रही है 440 केवी लाइन

नगर परिषद की ओर से जारी किए गए नोटिस में गंभीर बात यह उभरकर आई है कि जिस जमीन पर यह होटल व रेस्टोरेंट बनाया गया है, उसके ऊपर से 440 किलोवाट की लाइन क्रास कर रही है, जबकि बिल्डिंग एक्ट के अनुसार जहां भवन बनाया जाना होता है वहां एरिया पूरी तरह क्लियर होना चाहिए। एचटी लाइन उस जमीन से नहीं गुजरनी चाहिए। इतना ही नहीं, करीब 7 हजार वर्ग गज जमीन पर तैयार किए गए इस होटल के निर्माण से पूर्व कोई सीएलयू भी नहीं ली गई है, जबकि डीटीपी कंट्रोल एरिया में आने वाले इस इलाके में सीएलयू का होना अति अनिवार्य है। ऐसे में नगर परिषद की ओर से 4 फरवरी को जारी किए गए अपने नोटिस क्रमांक 2750 का हवाला देते हुए 3 जुलाई को पत्र क्रमांक 395 में हरियाणा म्यूनिसिपल एक्ट 1973 के तहत नियम 208ए का नोटिस जारी करते हुए भवन को सील लगाने के आदेश दिए गए हैं।

नप ने भेजा नोटिस 
नगर परिषद की ओर से नोटिस हमें प्राप्त हो गया है। इस संबंध में मामला अदालत में चल रहा है, किंतु कोरोना  संक्रमण काल में लंबी तारीखें मिलने के कारण वहां अगली तारीख काफी लंबी मिली है। नोटिस पर कानूनी सलाह लेने के बाद ही कुछ बता पाएंगे।
हरीश कुमार, सांझेदार रॉयल, ट्यूलिप होटल एंड रेस्टोरेंट नारनौल।

होटल के निर्माण में हुआ नियमों का उल्लंघन
शहर के बाईपास पर बनाए गए इस होटल में नगर परिषद को दिए गए नक्शे के अनुसार बिल्डिंग बनाने का ध्यान नहीं रखा गया है। इसके निर्माण में नियमों की अवहेलना मिलने पर पहले नोटिस देने संबंधी कार्रवाई की जा चुकी है। अब होटल के सील करने की कार्रवाई के तहत नियम 208ए का नोटिस जारी किया गया है।
अनिल कुमार, सचिव नगर परिषद नारनौल।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें