पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

भूमि को गलत तरीके से खरीदने व बेचने का मामला:3 माह की जांच के बाद वकील प्रेमनाथ गुप्ता व उनके 2 भाइयों पर मुकदमा दर्ज

नारनौल6 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

सरकारी जमीन को गलत तरीके से बेचने के मामले में सिटी पुलिस ने शहर के अधिवक्ता प्रेमनाथ गुप्ता और उनके दो भाइयों पर शनिवार देर शाम केस दर्ज किया है। यह केस एक शिकायत पर पुलिस के इकॉनोमिक सेल द्वारा 3 महीने तक पड़ताल करने के बाद दर्ज किया गया है। मामला शहर के सुभाष नगर में 9 बीघा 2 बिस्वा जमीन से जुड़ा है।

यह जमीन पाकिस्तान से विस्थापित होकर आए हरबंस लाल, देवेंद्र नाथ पुत्रान टोपनदास को अलॉट की गई थी। जब उस जमीन की अलाॅटमेंट बाबत बाद में शिकायत हुई तो वर्ष 1984 में चीफ सेटलमेंट कमिश्नर पुनर्वास विभाग ने पाया कि यह जमीन गलत तरीके से हरबंस लाल को दे दी गई। इसके बाद कमिश्नर पुनर्वास विभाग के 13 जून 1984 को जारी आदेश पर हरबंस लाल वगैरह को यह अलॉट की गई जमीन रद्द कर दी गई।

पुलिस को दी गई शिकायत में रमेश कुमार जवाहरनगर ने बताया कि सरकार द्वारा इस जमीन की अलाॅटमेंट हरबंस लाल के नाम से रद्द कर देने के बावजूद 5 साल बाद प्रेमनाथ वगैरा ने वसीका नंबर 1875/8 फरवरी 1989 को इस जमीन को खरीद लिया। जिस समय यह खरीदी गई उस समय मोहन लाल सैनी नामक व्यक्ति बतौर किराएदार उस जमीन के 5 बीघा 1 बिस्वा हिस्से पर काबिज था।

उसने कोर्ट में इसके खिलाफ अपनी एप्लीकेशन दी। बाद में दोनों पक्षों ने बाहर समझौता दिखाकर कोर्ट में इसकी जानकारी दी। इसके बाद यह जमीन के डिक्री आदेश मोहनलाल के फेवर में कोर्ट द्वारा 17 मई 1997 में कर दिए गए। मामले की शिकायत रमेश कुमार पुत्र बनवारी लाल जवाहर नगर ने 17 जून को पुलिस को दी।

शिकायत में बताया कि इस सारे मामले में पत्र क्रमांक 43/टी एस एन/ सितंबर 2013 को तहसीलदार ने राजस्व एवं आपदा प्रबंधन विभाग के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी एवम् वित्त आयुक्त चंडीगढ़ को पत्र प्रेषित करके जमीन के खरीददार प्रेमनाथ, इंद्रजीत वगैरा को दोषी माना तथा दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने को लिखा।

बावजूद इन पर अब तक कोई एक्शन नहीं लिया गया। बताते हैं कि इसके बाद पुलिस की ओर से शिकायत पर इकॉनोमिक सेल की ओर से पड़ताल के बाद शनिवार देर शाम सिटी पुलिस थाने में प्रेमनाथ एड., इंद्रजीत व सुरेंद्र नाथ पुत्र चंदूलाल शिवाजी नगर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया।

आरोपियों पर कार्रवाई जल्द : एसपी
सरकारी जमीन को गलत तरीके से खरीदने और बेचने संबंधी शिकायत मिली थी। इसकी इकोनोमिक सेल से गहनता से जांच करवाई गई। इसके बाद इसका केस दर्ज किया गया है। इस मामले में आरोपियों के खिलाफ जल्दी ही कार्रवाई की जाएगी।
-चंद्र मोहन, पुलिस अधीक्षक, नारनौल।

खबरें और भी हैं...