पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

ब्लैक फंगस के रोगी के परिजनों को लगाई चपत:इंजेक्शन मुहैया कराने के नाम पर ऑनलाइन ठगी 63220 रुपए लेने के बाद भी नहीं मिली दवा

मंडी अटेली9 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
  • साइबर सेल व अटेली थाने में मुकदमा दर्ज

एक तरफ कोरोनाकाल में ब्लैक फंगस के मरीजों को इंजेक्शन नहीं मिल रहे, वहीं दूसरी तरफ इंजेक्शन मुहैया कराने के नाम पर मरीजों के परिजनों से ठगी की जा रही है। हाल ही में साइबर जालसाजों ने अटेली निवासी एक व्यक्ति को अपना शिकार बनाया और इंजेक्शन पहुंचाने के नाम पर 63220 रुपए की चपत लगा दी। अब परिजनों ने ठगी करने वालों के खिलाफ साइबर सेल व अटेली थाने में शिकायत कर सख्त कार्रवाई की मांग की है।

जानकारी के अनुसार पार्षद सुनिता देवी की पहले ही कोरोना से असामयिक मौत हो गई थी। उसके बाद पार्षद के परिवार में दूसरे लोग संक्रमित हो गए। उनके जेठ राजेश कुमार संक्रमित होने के बाद ठीक तो हो गए, लेकिन बाद में ब्लैक फंगस ने उन्हें घेर लिया। उनके बेटे मुकुल गर्ग ने बताया कि अब गुड़गांव के निजी अस्पताल में उन्हें भर्ती तो करा दिया है, मगर म्यूकर माइकोसिस से निजात दिलाने का इंजेक्शन नहीं मिला। हरियाणा सरकार की अधिकारिक वेबसाइट पर फॉर्म भी जमा कराया मगर हर तरफ से निराशा हाथ लगी।

इसके बाद सोशल मीडिया का सहारा लिया और ट्वीटर पर मदद की गुहार लगाई। उनकी ट्वीटर पोस्ट को देखकर डॉ. शीतल जैन नामक महिला ने मदद का आश्वासन दिया और संपर्क नंबर पूछा। इसके बाद उन्होंने अपना नंबर उन्हें मैसेज कर दिया।

शनिवार को जब डाॅक्टरों ने 9 खुराक इंजेक्शन की डिमांड की तो उन्होंने दोबारा डॉ. शीतल नामक महिला से संपर्क किया तो उन्होंने पहले ऑनलाइन पेमेंट जमा करने की शर्त रख दी। इंजेक्शन के एवज में 62470 रुपए एडवांस पेमेंट मांगी गई। साथ ही इंजेक्शन की फोटो, 550 डिलीवर चार्ज व खाता विवरण भेजने को कहा।

पिता की जिंदगी का सवाल था इसलिए मुकुल ने उस डिटेल अकाउंट नंबर पर 63220 रुपए जमा करवा दिए। उसके बाद से फोन लगातार स्विच ऑफ आने लगा तो ठगी का अहसास हुआ।

जिस ट्‌वीटर अकाउंट पर संपर्क किया वह अब डिलीट

मुकुल ने बताया कि अब ट्वीट हटा दिया गया है और वह खाता भी अब गायब है, जिसपर उन्होंने विवरण भेजा था। पीड़ित ने बताया उसने खाता एक्सिस बैंक तोबड़ा शाखा अटेली से 25 मई को उक्त राशि उसके बताये गये खाते में ऑनलाइन जमा करवा दी। साइबर सेल व अटेली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खबरें और भी हैं...