बिजली सप्लाई ठप:झूलती पुरानी तारों के कारण लाइन लॉस की समस्या और बिजली का संकट भी बढ़ा

नारनौल2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश भर के साथ-साथ इन दिनों जिले में बिजली संकट फिर बढ़ने लगा है। इस समय हर जगह कोयले की कमी की बात की जा रही है, लेकिन जिले में कोयले की कमी से बिजली संकट बढ़ने जैसी कोई बात नहीं है। यहां बिजली की खपत बढ़ने के कारण पुराने एवं जर्जर उपकरणों में फाल्ट आने तथा बिजली की झूलती पुरानी तारों से कारण पैदा हो रही लाइन लॉस की समस्या के कारण बिजली संकट बढ़ रहा है।

खपत बढ़ने के कारण उपकरणों में आए फाल्ट के चलते बुधवार तड़के 3.20 बजे से 4.20 बजे तक तथा 4.48 बजे से सुबह 8. 10 बजे तक नारनौल 220 केवी, इंडस्ट्रीयल एरिया स्थित 33 केवी विद्युत पॉवर हाउस समेत पूरे शहर व ग्रामीण क्षेत्र की बिजली सप्लाई ठप रही। बता दें कि बरसात का सीजन समाप्त होने के कारण एक बार फिर तापमान बढ़ने लगा है। तापमान बढ़ने के साथ ही एक बार फिर बिजली की खपत बढऩे लगी है।

इसके साथ ही अब रबी फसल की बिजाई का सीजन भी शुरु हो चुका है। ऐसे में कई दिनों से बंद पड़े ट्यूबवेल भी चालू कर दिए गए हैं। इससे भी बिजली की खपत बढ़ गई है। बिजली की खपत बढ़ने के साथ ही जिले के पुराने एवं जर्जर बिजली उपकरणों में भी बड़ा फाल्ट आने लगा है। बिजली निगम के रिकार्ड के अनुसार वर्तमान में पानीपत बिजली प्लांट से दादरी तथा दादरी से महेंद्रगढ़ होकर नारनौल 220 केवी में बिजली आ रही है।

बिजली की खपत बढ़ने के कारण मंगलवार तड़के करीब 3.20 बजे बीबीएमबी दादरी में फाल्ट आ गया। इसके चलते तड़के 3.20 बजे से 4.20 बजे तक महेंद्रगढ़ व नारनौल पॉवर हाउस बंद रहे। इसके बाद फाल्ट को ठीक कर 4.20 बजे के बाद बिजली चालू कर दी गई। 4.20 से 4.48 बजे यानि 28 मिनट बाद महेंद्रगढ़ में एलए (लाइटनिंग अरेस्टर) फट गया।

इसके चलते 4.48 बजे से सुबह 8.10 बजे तक 220 केवी पावर हाउस समेत पूरे शहर व ग्रामीण क्षेत्र की बिजली सप्लाई ठप रही। इसके बाद 8.10 बजे बाद फाल्ट को ठीक कर दोबारा बिजली सप्लाई चालू की गई। इसके बाद नारनौल पावर हाउस पर बिजली संप्रेषण की जांच करने के बाद बिजली सप्लाई चालू की गई। इस प्रकार शहर में 9 बजे के बाद ही बिजली सप्लाई चालू हो सकी।

बिजली उपकरणों में इस प्रकार की खराबी आना एक दिन की समस्या नहीं है। इसके अलावा जर्जर व पुरानी झूलती बिजली की तारों के कारण लाइन लॉस की समस्या भी बनी रहती है। इसके चलते भी लाइनों में फाल्ट आने की समस्या बनी रहती है। इससे भी एरिया वाइज बिजली घंटों बाधित रहती है। इस प्रकार जिले में बिजली की खपत बढऩे के साथ ही बिजली संकट एक बार फिर बढ़ने लगा है।

दादरी में फाल्ट आने से बिजली सप्लाई बाधित

मंगलवार तड़के दादरी में फाल्ट आने से 3.20 से 4.20 बजे तक तथा महेंद्रगढ़ में एलए फटने से सुबह 4.48 बजे से सुबह 8.10 बजे तक बिजली वितरण व्यवस्था ठप रही। अभी तक जिले में कोयले की कमी के कारण बिजली सप्लाई प्रभावित होने जैसी कोई बात नहीं है।-विशाल राजपूत, एसडीओ शहरी बिजली वितरण, नारनौल।

खबरें और भी हैं...