पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

कोविड अपडेट:कोरोना के 4 नए केस, अब जिले के 99 लोगों में ही बचा संक्रमण

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जिले में अब तक काेरोना के आंकड़े - Dainik Bhaskar
जिले में अब तक काेरोना के आंकड़े
  • राहत; रिकवरी 97.52%, चिंता; अस्पताल में अब भी 45

जिला में कोविड-19 संक्रमण की स्थिति में लगातार गिरावट बनी है। पहली बार आंकड़ें कुछ सुकून देने वाले हैं। जिले में गुरुवार काे मात्र 4 काेराेना के पॉजिटिव केस सामने आए हैं। अभी तक कोविड-19 बीमारी पूरी तरह खत्म नहीं हुई है। जिला में कोरोना की पॉजिटिविटी दर कम होकर 5.66 प्रतिशत रह गई है और रिकवरी दर 97.52 प्रतिशत हो गई है।

गुरुवार काे कोविड-19 के 837 सैंपल जांच के लिए भेजे गए, जिनमें से केवल 4 सैंपल पॉजिटिव पाए गए, जबकि 161 सैंपल का परिणाम आना शेष है। अब तक के आंकड़ों के अनुसार जिला में अब तक 452894 व्यक्तियों को सर्विलांस पर रखा गया, जिनमें संक्रमितों के सम्पर्क में आए व्यक्ति भी शामिल है।

जिला में अब तक कोविड-19 के 4 लाख 54 हजार 377 सैंपल लिए गए हैं, जिनमें से 25758 सैंपल पॉजिटिव पाए गए और 4 लाख 28 हजार 458 सैंपल नेगेटिव पाए गए। इनमें से उपचार के बाद 25121 व्यक्ति स्वस्थ होकर अपने घर जा चुके है। जिला में वर्तमान मेंं कोविड-19 के 99 एक्टिव मरीज है।

इन एक्टिव मरीजों में से 45 मरीज अस्पतालों में उपचाराधीन है, जबकि 54 मरीज घरों में अाइसाेलेशन में कोविड-19 का इलाज ले रहे हैं। मास्क न पहनने पर 16 जून को 279 चालान किए गए। }जिले में 5480 लाेगाें को लगाई पहली डाेज

जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अनिलजीत त्रेहान ने बताया कि कोविशिल्ड की 4362 और को-वैक्सीन की 1901 डोज लगाई गई। जिला में महामारी से बचाव के लिए चलाए जा रहे टीकाकरण अभियान के तहत अब तक 258119 डोज दी जा चुकी है। हेल्थ केयर वर्कर को अब तक 21701 डोज दी जा चुकी है।

इसी प्रकार फ्रंटलाइन वर्कर को 17084 डोल दी जा चुकी है। इसी प्रकार 18 से 44 आयु वर्ग में 51684 डोज लगाई जा चुकी है। इसी प्रकार 45 से 60 आयु वर्ग में 81166 डोज लगाई जा चुकी है। 60 वर्ष या इससे अधिक आयु वर्ग में 94580 डोज लगाई जा चुकी है। वहीं पहली डाेज 5480 लाेगाें और दूसरी डाेज 783 लाेगाें काे लगाई गई।

2,55,694 - लोगों को जिले में अब तक वैक्सीन की डोज लगाई जा चुकी है।

ब्लैक फंगस के सात मरीजों के किए ऑपरेशन

जिले में स्वास्थ्य विभाग के पास 82 मरीज ब्लैक फंगस हैं, जिनका इलाज चल रहा है। पंडित भगवत दयाल शर्मा स्वास्थ्य विज्ञान विश्वविद्यालय के कोविड-19 ट्रॉमा सेंटर अस्पताल में इस समय 28 मरीज भर्ती हैं जिनमें से 11 मरीज आईसीयू में हैं। पीजीआईएमएस में सिर्फ ब्लैक फंगस के 192 मरीज भर्ती हैं। गुरुवार को 7 मरीजों के ऑपरेशन किए गए। गुरुवार को 506 इंजेक्शन मिले हैं जो मरीजों को लगा दिए गए हैं।

खबरें और भी हैं...