पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

7 अक्टूबर से शुरू होगी रामलीला:अयोध्या में श्रीराम मंदिर की थीम पर बनेगा मंच

रोहतक16 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
रामलीला मंचन की तैयारियां करते हुए कलाकार। - Dainik Bhaskar
रामलीला मंचन की तैयारियां करते हुए कलाकार।
  • कोरोना काल से पूर्व जैसी भव्यता से इस बार शहर में रामलीला मंचन की जा रही तैयारियां, ग्राउंड पर कोविड-19 नियमों से दर्शकों के बैठने की होगी व्यवस्था, सोशल मीडिया पर देख सकेंगे लाइव प्रसारण

इस बार कोरोना काल से पूर्व जैसी भव्यता से शहर में रामलीला मंचन की तैयारी शुरू हो गई है। ग्राउंड पर कोविड-19 नियमों से दर्शकों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी। रामलीला प्रेमियों के लिए सुविधा के लिए सोशल मीडिया पर होगा लाइव प्रसारण का भी इंतजाम होगा। इधर, शहर की प्रमुख रामलीला समितियाें ने जिला प्रशासन के पास रामलीला उत्सव आयोजन की अनुमति लेने के लिए अर्जी लगाई है। इसमें शासन-प्रशासन से रामलीला मंचन की स्वीकृत मांगी गई है। शारदीय नवरात्रे 25 दिन बाद शुरू हो रहे हैं। 7 अक्तूबर से रामलीला का मंचन किया जाना है। इसको देखते हुए शहर की प्रमुख रामलीला कमेटियों के पदाधिकारियों-सदस्यों और सहयोगियों को जिम्मेदारी सौंप दी है।

श्री रामलीला उत्सव कमेटी : ओल्ड आईटीआई ग्राउंड पर श्री रामलीला उत्सव कमेटी 9 साल से रामलीला मंचन कर रही है। कमेटी के प्रधान सुभाष तायल ने बताया कि इस बार पूरी भव्यता के साथ रामलीला मंचन की तैयारी है। यूपी के मुरादाबाद के कलाकारों की टीम को आमंत्रण भेजा है। अयोध्या में श्रीराम मंदिर के स्वरूप वाला स्टेज तैयार किया जाएगा। कोरोना से बचाव से संबंधित सारे इंतजाम होंगे। दर्शक दीर्घा भी छोटी रखी जाएगी, लेकिन रामलीला मंचन का लाइव प्रसारण सोशल मीडिया के जरिए दर्शकों तक पहुंचाया जाएगा। अनुमति नहीं मिलने पर पिछले साल की भांति दशहरा उत्सव ही मनेगा।

लोकल रामलीला पुराना बस स्टैंड : पुराना बस स्टैंड स्थित लोकल रामलीला के मंचन का इतिहास 100 साल पुराना है। कमेटी के पूर्व प्रधान पवन मित्तल खरकिया ने बताया कि मथुरा वृंदावन के कलाकारों की टीम रामलीला मंचन करती है। उनको सूचित किया है। यहां भी सारी तैयारियां जोर पर है। 7 सितंबर को रामलीला का शुभारंभ और 16 दिसंबर को राजतिलक के साथ समापन किए जाने का कार्यक्रम तय हुआ है। कोई व्यवधान आने पर केवल दशहरा उत्सव मनेगा। इस दिन दो घंटे की रामलीला का मंचन भी किया जाएगा।

नेक कुकारो वाली रामलीला : गांधी नगर में वर्ष 1954 से नेक कुकारो वाली रामलीला कमेटी रामलीला का मंचन कर रही है। कमेटी के उप प्रधान गोपी आनंद ने बताया कि पिछले वर्ष कोरोना महामारी की वजह रामलीला का मंचन नहीं होने का मलाल है, लेकिन इस बार टीम सौ फीसदी रामलीला मंचन के लिए तैयार हैं। प्रशासन की ओर से मंजूरी मिली तो शानदार रामलीला का मंचन किया जाएगा। रामलीला के पात्रों को जरूरी निर्देश दिए गए हैं। सोमवार दोपहर में नेक कुकारो वाली रामलीला कमेटी के पदाधिकारियों व सदस्यों की बैठक बुलाई गई। इस मौके पर विचार-विमर्श के बाद सारी गतिविधियां निश्चित कर दी जाएगी। वैसे भी कोरोना से बचाव को लेकर सारे नियमों की पालना होगी।

श्री सनातन धर्म पंजाबी रामलीला क्लब : श्री सनातन धर्म पंजाबी रामलीला क्लब द्वारा वर्ष 1950 से प्रताप चौक स्थित मंच पर रामलीला का मंचन करता आ रहा है। क्लब के प्रधान मदन गुलाटी ने बताया कि रामलीला मंचन की तैयारियों को लेकर रविवार को प्रताप चौक स्थित रामलीला ग्राउंड पर पदाधिकारियों व सदस्यों की बैठक हुई। इस बार पूरी रामलीला मंचन का फैसला किया गया है। कलाकार भी अपनी तैयारी में लग गए हैं। निर्माणाधीन मंच भी बनकर तैयार है।

40 दिन की श्री हनुमान स्वरूप की आराधना शुरू : श्री सनातन धर्म पंजाबी रामलीला क्लब के ग्रांउड पर 10 दिन की श्रीहनुमान स्वरूप की आराधना प्रारंभ हो गई। क्लब के डायरेक्टर सुरेंद्र नरूला ने बताया कि यहां प्रतिदिन सुबह-शाम पूजा पाठ और आरती की जाती है। इस बार दो बच्चों सहित 13 लोग दशहरे के दिन स्वरूप धारण करेंगे। इनका 21 दिन का व्रत 25 सितंबर से शुरू होगा।

मुख्यालय के आदेश पर ही मिलेगी अनुमति
सरकार की ओर से रामलीला मंचन व दशहरा उत्सव को लेकर अभी कोई गाइडलाइन नहीं आई है। फिर भी इस संबंध में सोमवार को विचार-विमर्श किया जाएगा। मुख्यालय से जो भी आदेश आएंगे, उनके मुताबिक ही रामलीला कमेटियों को अनुमति प्रदान की जाएगी।- राकेश कुमार, एसडीएम, रोहतक।

खबरें और भी हैं...