भूख हड़ताल / मोखरा गोशाला में लाखों के गबन का आरोप लगा गाेे सेवक 5 दिन से भूख हड़ताल पर बैठे

Alleged servants accused of embezzlement of lakhs in Mokhara Gaushala sit on hunger strike for 5 days
X
Alleged servants accused of embezzlement of lakhs in Mokhara Gaushala sit on hunger strike for 5 days

  • डीसी काे ज्ञापन देने के बाद भी कार्रवाई न हाेने पर दी अांदाेलन की चेतावनी

दैनिक भास्कर

May 24, 2020, 05:00 AM IST

रोहतक. मोखरा स्थित श्रीकृष्ण गोशाला के पूर्व कोषाध्यक्ष पर कमेटी ने लाखों रुपए के गोलमाल करने का आरोप लगाया है। इस बारे में कई बार पंचायतें भी हो चुकी हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हो सका गबन की जांच को लेकर गो सेवक रामकिशन शास्त्री भूख हड़ताल पर बैठे हैं। वहीं मामले में उचित कार्रवाई की मांग को लेकर ग्रामीणों ने जिला उपायुक्त आरएस वर्मा से मुलाकात भी की। ग्रामीणों ने कहा कि गबन के मामले में अगर जल्द कार्रवाई नहीं की तो जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन करने व रोड जाम कर मजबूर हो जाएंगे।

इस मामले में गोशाला के प्रधान संदीप ने आराेप लगाया कि पूर्व की कमेटी के कोषाध्यक्ष ने गोशाला में लाखों रुपए का घोटाला किया है। जिसका पता नई कमटी द्वारा कार्यभार संभालने के बाद चला। कोषाध्यक्ष पर आराेप है कि वह प्रधान और सचिव को धोखे में रखकर गोलमाल करता रहा। 

रामकिशन का स्वास्थ्य बिगड़ा

गोसेवक रामकिशन शास्त्री पिछले पांच दिनों से गबन मामले की जांच को लेकर भूख हड़ताल पर बैठे हैं। उनकी तबियत बिगड़ती जा रही है। रामकिशन ने बताया कि उन्होंने गोसेवा के लिए चार एकड़ जमीन दान दे रखी है व समय-समय पर चंदा देते रहते हैं। ग्रामीणों ने चंदे का गबन होने की सूचना दी थी। उसके बाद पूर्व कोषाध्यक्ष से चंदे के पैसे का हिसाब मांगा तो उसमें पैसे का गबन पाया। 

गबन की बातें निराधार: पूर्व कोषाध्यक्ष

पूर्व कोषाध्यक्ष का कहना था कि गो सेवक रामकिशन शास्त्री की वह कद्र करते हैं वे असलियत में गोसेवक हैं। वे अब बूढ़े हो चले हैं उनको सुनता नहीं है। कुछ लोगों ने गोसेवक रामकिशन शस्त्री को गबन की बात कहकर बहका दिया है। उसने गोशाला में किसी प्रकार का गबन नहीं किया है। वह सिर्फ दस हजार रुपए की नाैकरी करता था। इस दौरान मेहनत कर गोशाला को चलाया है। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना