पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

विकास एवं पंचायत विभाग हरियाणा महानिदेशक की बैठक:15 तालाबों का होगा सौंदर्यीकरण, ग्रे वाटर मैनेजमेंट के नए 78 कार्य स्वीकृत

राेहतक18 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
जिला विकास भवन में महानिदेशन आरसी बिधान को स्मृति चिह्न भेंट करते जिप के सीईओ महेश कुमार। - Dainik Bhaskar
जिला विकास भवन में महानिदेशन आरसी बिधान को स्मृति चिह्न भेंट करते जिप के सीईओ महेश कुमार।
  • सभी लंबित विकास कार्यों को समय पर पूरा करने के दिए निर्देश

विकास एवं पंचायत विभाग हरियाणा के महानिदेशक आरसी बिधान ने विभाग के अंतर्गत आने वाले सभी लंबित विकास कार्यों को निर्धारित अवधि में पूरा करने के निर्देश दिए हैं। आरसी बिधान रविवार को जिला विकास भवन में विकास कार्यों को लेकर अधिकारियों की समीक्षा बैठक को संबोधित कर रहे थे।

आरसी बिधान ने कहा कि जिले में 15 तालाबों का सौंदर्यीकरण करके उन्हें मॉडल तालाब के रूप में विकसित किया जाना है। पांच तालाबों पर पहले से ही कार्य चल रहा है। उन्होंने कहा कि 5 तालाबों के सौंदर्यीकरण के कार्य को समय में पूरा किया जाए। इसके अलावा 10 अन्य तालाब भी मॉडल तालाब के रूप में विकसित करने के लिए स्वीकृति प्रदान की गई है।

इन सभी का एस्टीमेट बनाने का कार्य प्रगति पर है। उन्होंने कहा कि ग्रे वाटर मैनेजमेंट के लिए 78 नए कार्य स्वीकृत किए हैं। इस पर उन्होंने इन सभी कार्यों पर जल्द से जल्द काम आरंभ करने के निर्देश भी दिए। इसके अलावा उन्होंने ग्रे वाटर से संबंधित लंबित कार्यों को भी तय समय में पूरा करने के निर्देश दिए।

शिवधाम नवीनीकरण योजना का काम जल्द पूरा हाे

महानिदेशक आरसी बिधान ने कहा कि शिवधाम नवीनीकरण योजना के तहत श्मशान घाट और कब्रिस्तान आदि पर शेड रास्ता व बाउंड्रीवाल बनाने आदि के कार्य किए जाने हैं। इस योजना पर पिछले तीन-चार सालों से कार्य चल रहा है इसलिए जो भी लंबित कार्य बचे हुए हैं उन्हें तुरंत प्रभाव से पूरा किया जाए।

शिवधाम नवीनीकरण योजना के तहत जिले के 12 गांव में 42 कार्य किए जाने हैं। इन सभी कार्यों को जिला स्तर पर फंड प्रबंधन करके उन्हें पूरा किया जाए। इसके साथ ही उन्होंने गांव स्तर पर सरकारी भवनों में रेन हार्वेस्टिंग का कार्य भी करने के निर्देश दिए।

महानिदेशक बिधान ने कहा कि ने स्वामित्व योजना क्षेत्र तहत किए जाने वाले कार्यों को भी जल्द पूरा करने के निर्देश दिए। बैठक में इससे पहले जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी महेश कुमार ने विकास कार्यों के बारे में रिपोर्ट प्रस्तुत की। बैठक के दौरान जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी महेश कुमार, पंचायत विभाग के कार्यकारी अभियंता वीरेंद्र सांगवान, खंड विकास एवं पंचायत अधिकारी राज्यपाल चहल, दर्शन राठी, अनिल धींगड़ा सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी मौजूद रहे।

खबरें और भी हैं...