बिजली कनेक्शन काटने के नाम पर धोखाधड़ी:रोहतक में असिस्टेंट प्रोफेसर को भेजा मैसेज, ऐप डाउनलोड करवाकर ठगे 1.57 लाख

रोहतकएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के जिला रोहतक में बिजली कनेक्शन काटने के नाम पर 1.57 लाख रुपए की ठगी की गई है। दिल्ली में असिस्टेंट प्रोफेसर रोहतक के आदर्श नगर निवासी संजय मनोचा को मैसेज भेजकर बिजली कनेक्शन काटने का डर दिखाया गया। इसके बाद एक ऐप डाउनलोड करवाई और करीब 15 से अधिक ट्रांजेक्शन में 1 लाख 57 हजार से अधिक रुपए की ऑनलाइन ठगी की गई।

पुलिस को दी शिकायत में संजय ने बताया कि 26 जून को वाट्सऐप मैसेज आया, जिसमें लिखा था कि बिजली बिल नहीं भरा तो रात साढ़े 9 बजे तक बिजली कनेक्शन काट दिया जाएगा। जल्दी से जल्द बिजली अधिकारियों से बात करें। जब फोन पर बात की तो बताया कि पिछला बिल अपडेट नहीं हुआ है। फोन पर बात करने वाले ने कहा कि इलेक्ट्रिसिटी अकाउंट में रुपए नहीं है, इसलिए कम से कम 5 रुपए जमा करवाएं।

5 रुपए जमा करने का दिया झांसा

संजय ने बताया कि उसने झांसे में आकर 5 रुपए जमा करवाने के लिए प्रक्रिया पूछी तो मोबाइल नंबर पर लिंक भेजकर पेटीएम से 5 रुपए डालने के लिए कहा गया। जब लिंक पर क्लिक किया तो कुछ जानकारी भरने के लिए कहा गया। जैसे ही जानकारी भरकर भुगतान किया तो भुगतान फेल दिखा दिया। इसके बाद फिर बात कि तो सामने वाले ने प्ले स्टोर से एक ऐप डाउनलोड करवाई।

एप डाउनलोड करने के बाद हुई ठगी

कई ऐप में से एक विकल्प चुनकर ऐप डाउनलोड कर ली। इसी दौरान उसके अकाउंट से 10 हजार 98 रुपए कटने का मैसेज आ गया। जब फिर फोन पर बात की तो सामने वाले ने कंपनी से बात करके वापसी का आश्वासन दिया। इसके बाद करीब 15 बार अलग-अलग अमाउंट अलग-अलग खातों से कटने के मैसेज मिले। आरोपी ने कुल 1 लाख 57 हजार 75 रुपए की धोखाधड़ी की।

घटना की शिकायत पुलिस को दी। जांच अधिकारी संदीप कुमार ने बताया कि असिस्टेंट प्रोफेसर से बिजली कनेक्शन कटने के नाम पर 1.57 लाख रुपए की ठगी की शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर मामला दर्ज करके आरोपियों की तलाश के लिए पुलिस टीम जुटी हुई है।

खबरें और भी हैं...