पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

लॉकडाउन एक सप्ताह बढ़ा:सम-विषम पर भ्रम की स्थिति, तारीख के से नहीं दिन से तय हो ऑड-इवन फार्मूला

रोहतक24 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

लॉकडाउन का एक सप्ताह बढ़ते ही अब सम-विषम के तरीके से दुकानें खाेलने को लेकर विरोध शुरू हो गया है। व्यापारियों का कहना है कि बाजारों में दुकानों के खुलने का समय तिथि के हिसाब से नहीं दिन के हिसाब से सम-विषम निर्धारित किया जाना चाहिए। इसे लेकर व्यापारिक संगठनों की ओर से भी आवाज उठाई जानी शुरू हो गई है।

राष्ट्रीय जन उद्योग व्यापार संगठन के प्रदेश अध्यक्ष गुलशन डंग ने बताया कि सरकार ने इस समय में परिवर्तन करते हुए दुकानों का टाइम 9 से 3 बजे तक कर दिया। परंतु सम और विषम का विषय तिथि के हिसाब से भ्रम की स्थिति पैदा करने वाला है। जैसे शनिवार को 29 तारीख थी और सोमवार को 31 तारीख और मंगलवार को 1 तारीख इस हिसाब से 3 दिन निरंतर विषम का नंबर पड़ता है और सम वाले का नंबर 4 दिन बाद पड़ेगा।

इस सारी स्थिति की जानकारी हमने डीसी को किला रोड के व्यापारियों के साथ जाकर अवगत कराया था। उन्हें सुझाव दिया था कि इसको दिन के हिसाब से खोला जाना चाहिए, जैसे सोमवार को सम नंबर और मंगलवार को विषम नंबर खुलना चाहिए, ताकि सभी दुकानदार 3-3 दिन बराबर तौर पर अपनी दुकान खोल सकें।

डीसी इसके ऊपर अपनी सहमति भी जताई थी। सम-विषम वाला विषय दिनों के हिसाब से तय होना चाहिए। इस मांग के समर्थन में शहरी अध्यक्ष सुमित सोनी, किला रोड प्रधान बिट्टू सचदेवा, प्रधान राकेश वर्मा, एमएम भल्ला, प्रवक्ता साहिल मग्गू शहरी, दीपक पुनियानी, उपाध्यक्ष कपिल खन्ना, विकास गोयल, राजकुमार बब्बर, बिट्टू टक्कर, अमित वर्मा, संदीप गर्ग, पंकज चाबा, अशोक कुमार, ललित सुनेजा, विशंभर आहुजा व नरेंद्र कथुरिया आदि व्यापारी का समर्थन है।

खबरें और भी हैं...