• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Firefly Was Roaming In Preparation For Filling Hookah, Two Youths Who Came In The Car Shot 5 Bullets In 14 Seconds

शीतल नगर में बिल्डिंग मटेरियल कांट्रेक्टर की हत्या:हुक्का भरने की तैयारी में घूम रहा था जुगनू, कार में आए दो युवक 14 सेकंड में 5 गोलियां मार गए

रोहतक21 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झज्जर राेड पर मर्डर के दाैरान माैके पर जांच करती पुलिस। - Dainik Bhaskar
झज्जर राेड पर मर्डर के दाैरान माैके पर जांच करती पुलिस।
  • मृतक के भाई का आरोप- 8 महीने पहले वैश्य कॉलेज के स्टेडियम में हुए अंकुश मर्डर की रंजिश में उसके बेकसूर भाई काे मार डाला

शीतल नगर में बिल्डिंग मेटेरियल संचालक 26 वर्षीय जगदेव उर्फ जुगनू की 14 सेकंड में सिर में 5 गोली मारकर हत्या कर दी गई। गुरुवार दोपहर बाद 3 बजे जुगनू ऑफिस के साथ लगते प्लॉट में हुक्का भर रहा था। आरोपी इको स्पोर्ट्स कार में आए और वारदात को अंजाम देकर फरार हो गए। पुलिस जुगनू हत्याकांड को 24 मई को जनता कॉलोनी में न्यू विजय नगर के 28 वर्षीय अंकुश उर्फ सिद्धार्थ की हत्या से जोड़कर देख रही है। जगदेव के भाई रोबिन ने जनता कॉलोनी के आकाश उर्फ गिट्टी और सुनारियां के पंकज उर्फ पंक के खिला केस दर्ज करवाया है। वहीं मर्डर की ये पूरी वारदात जुगनू के ही ऑफिस में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुई है। पुलिस का दावा है कि जल्द आरोपियों की गिरफ्तारी होगी।

छोटे भाई पर दर्ज हुआ था मर्डर केस
मुलरूप से झज्जर के गोच्छी हाल निवासी शीतल नगर के रोबिन ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उनका बड़ा भाई 26 वर्षीय जगदेव बिल्डिंग मेटेरियल सप्लाई का काम करता था। झज्जर रोड पर जल घर के सामने उनका ब्रदर्स बिल्डिंग के नाम से ऑफिस है। रोबिन ने पुलिस को बताया कि उनके खिलाफ लड़ाई-झगड़े का मुकदमा दर्ज था। इस मुकदमे में शीतल नगर का गोगी भी मुकदमे-वार है। 8 महीने पहले लोकेश उर्फ गोली ने आकाश उर्फ गिट्टी के भाई का वैश्य कॉलेज के स्टेडियम में मर्डर किया था। इसमें अशोक ने उसका भी नाम लिखवा दिया था।

गुरुवार को दोपहर बाद करीब 3 बजे वह अपने भाई जगदेव के साथ ऑफिस पर मौजूद था। जगदेव ऑफिस के साथ लगते खाली प्लॉट में हुक्का भरने के लिए गया हुआ था। इसी वक्त गोली चलने की आवाज सुनाई दी तो रोबिन ऑफिस से बाहर निकलकर आया। उस समय जनता कॉलोनी का आकाश उर्फ गिट्‌टी, सुनारियां गांव का पंकज उर्फ पंकू जुगनू को गोली मार रहे थे। इसके बाद दोनों अपने हाथों में लिए हथियारों समेत इको स्पोर्टस कार में बैठकर भाग गए। सूचना मिलने के बाद थाना शिवाजी कॉलोनी प्रभारी शमशेर सिंह, एफएसएल प्रभारी डॉ. सरोज दहिया मलिक ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए।

ऑफिस में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए आरोपी

वारदात की सीसीटीवी फुटेज में दो युवक इको स्पोर्ट्स कार में 3 बजकर 1 मिनट 25 सेकंड पर हाथ में पिस्तौल लेकर उतरते हंै। 3 बजकर एक मिनट और 38 सेकंड पर वापस कार में बैठकर झज्जर चुंगी की तरफ फरार हो जाते है। पुलिस को घटनास्थल से गोलियों के 5 खोल मिले हैं। वहीं हत्या का पता चलने पर जयदेव के पिता जयपाल सिंह और मां रोते बिलखते घटनास्थल पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि छह महीने पहले ही बेटे की शादी हुई थी। रोती हुई मां अपने बेटे को एक बार उठाने का हवाला देती रही।

मृतक जगदेव का फाइल फोटो।
मृतक जगदेव का फाइल फोटो।
खबरें और भी हैं...