पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें

दो बड़ी वारदात में खुलासा:पहली पत्नी के बेटे ने दोस्तों के साथ मिल की सुनीता की हत्या, जायदाद में हिस्सा मांगने पर रखे था रंजिश

रोहतक3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
  • न्यू लक्ष्मी कॉलोनी में महिला की हत्या व नहर में मिला था आशा वर्कर का शव

बोहर के पास न्यू लक्ष्मी कॉलोनी में शुक्रवार रात को हुई सुनीता की हत्या मामले में खुलासा हो गया है। अभी तक की जांच में स्पष्ट हो गया है। सुनीता की हत्या उसकी सौतन के बेटे रवींद्र ने की है। हालांकि अभी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हुई है। लेकिन पुलिस मामले में उसकी संलिप्तता और वारदात को अंजाम देने के कई सुबूत उसके खिलाफ जुटा चुकी है।

हत्या की रंजिश भी पुलिस ने पता कर ली है। पुलिस ने रवींद्र को मुख्यारोपी मान उसके खिलाफ केस दर्ज किया है। जांच में सामने आया है कि सुनीता के पति भराण निवासी आनंद ने दो शादी कर रखी हैं। बखेता की सुनीता उसकी दूसरी ब्याहता है।

आनंद की 2014 में बीमारी से मौत हो चुकी

सुनीता का एक बेटा 17 वर्षीय सुमित है। आनंद की पहली शादी गीता से हुई है। उसका एक बेटा 32 वर्षीय रवींद्र भी है जो गांव में खेती बाड़ी संभालता है। आनंद की 2014 में बीमारी से मौत हो चुकी है। पुलिस सूत्रों के अनुसार रवींद्र की खेत जमीन के बंटवारे को लेकर अपने ताऊ व चाचा से भी अनबन चल रही थी। इसी बीच सुनीता भी उसके ताऊ व चाचा के साथ मिल जमीन में हिस्सा मांगने लगी थी। रवींद्र को ये नागवार था।

तीन दोस्तों के साथ रवींद्र आया था घर, सुमित भी था निशाने पर

पुलिस ने बताया कि सुनीता से 2 जून को रवींद्र ने फोन पर बात की थी। उसके ताऊ व चाचा के साथ जमीन को लेकर हुए विवाद में उसने सुनीता से पंचायत में उसका साथ देने की बात कही थी। लेकिन सुनीता ने रवींद्र से जमीन में अपना हिस्सा मांगा।

सुमित ने भी फोन पर रवींद्र को अपनी जमीन छोड़ने के लिए कहा। पुलिस सूत्रों के अनुसार इसके बाद ही रवींद्र ने हत्या का प्लान बना डाला। वारदात की रात रवींद्र अपने तीन दोस्तों के साथ सुनीता के घर न्यू लक्ष्मी कॉलोनी आया था। लेकिन उस समय सुमित दूध लेने के लिए बाहर गया था। चारों सुनीता की हत्या कर भाग गए।

खबरें और भी हैं...