पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

फिटनेस सर्टिफिकेट:25 मिनट में एक वाहन की जांच रहे फिटनेस, 90% वाहनों में लाइट की समस्या बताकर वापस भेज रहे

रोहतक10 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
झज्जर राेड स्थित आरटीओ ऑफिस में गाड़ी पासिंग करवाने के लिए इंतजार में बैठे लाेग। - Dainik Bhaskar
झज्जर राेड स्थित आरटीओ ऑफिस में गाड़ी पासिंग करवाने के लिए इंतजार में बैठे लाेग।
  • रोहतक के कन्हेली स्थित पासिंग सेंटर में पांच जिलों के वाहनों की जांच करके जारी किया जाता है फिटनेस सर्टिफिकेट

शहर के कन्हेली रोड स्थित आरटीए परिसर में इंस्पेक्शन एंड सर्टिफिकेशन सेंटर में पांच जिले सोनीपत, रोहतक, झज्जर, जींद, पानीपत, सोनीपत जिले के छोटे व बड़े वाहन फिटनेस जांच कराने के लिए आने आ रहे हैं। परिवहन विभाग ने सेंटर पर वाहनों की फिटनेस का जिम्मा निजी कंपनी को दिया हुआ है।

निजी कंपनी की ओर से किए जा रहे फिटनेस टेस्ट का आलम यह है कि एक वाहन की 10 मिनट में 15 मानकों पर जांचने की बजाय 25 मिनट का समय लगा रहे हैं। इसमें पूरे दिन में 90 फीसदी वाहनों में लाइट को मानक के अनुरूप न बताकर अनफिट घोषित कर रहे हैं। ऐसे में एक दिन पहले या दो से तीन दिन तक चक्कर लगाने वाले वाहन चालकों को निराश होकर लौटना पड़ रह है।

फिटनेस सर्टिफिकेट पाने के लिए छोटे-बड़े वाहनों की एक किमी तक लाइन लग रही है। आरटीए सचिव का दावा है कि रोजाना औसतन 275 वाहनों की फिटनेस जांच की जा रही है। वहीं, जमीनी हकीकत यह है कि 40 फीसदी वाहन नंबर न आने पर सेंटर में प्रवेश नहीं कर पा रहे हैं। भास्कर टीम ने बुधवार दोपहर पासिंग सेंटर में पहुंचकर हकीकत को जाना।

संवाददाता को देख कड़ी धूप में नंबर आने का इंतजार करने वाले वाहन मालिकों का दर्द फूट पड़ा। उन्होंने फिटनेस पासिंग सेंटर प्रबंधन पर गंभीर आरोप लगाए।

फिटनेस के दौरान इन मानकों पर होती है जांच

सर्टिफिकेशन सेंटर के अंदर वाहन के पहुंचते ही उसका फोटो लिया जाता है। ऑटोमेटेड मशीन के ट्रैक पर वाहन का पॉल्यूशन और साउंड लेवल मीटर, साइड स्लिप, ब्रेक क्षमता, स्पीडोमीटर टेस्टिंग, ज्वाइंट प्ले, हेड लाइट, एचएसआरपी नंबर प्लेट, रिफ्लेक्टर टेप, विंड स्क्रीन के मानकों की जांच करने के बाद फिटनेस सर्टिफिकेट जारी किया जाता है। आठ साल से ज्यादा पुराने वाहनाें काे हर साल फिटनेस टेस्ट कराना अनिवार्य है। जबकि आठ साल के अंदर के वाहनों काे 2-2 साल के अंतराल में वाहनों की फिटनेस जांच कराना जरूरी है। पासिंग फीस 600 और 800 रुपए है।

दो दिन इंतजार के बाद नंबर आया, 25 मिनट की जांच में लाइट में कमी बताई

बहादुरगढ़ से ट्रक की फिटनेस जांच करवाने आए चालक बंटी ने बताया कि सोमवार को पासिंग सेंटर में ट्रक लेकर आया था। मंगलवार को पासिंग सेंटर में प्रवेश मिला। सेंटर में वाहन लेकर गए तो वहां पर स्टाफ ने जांच के दौरान लाइट को मानक के अनुरूप न बताकर 25 मिनट बाद वापस लौटा दिया।

बुधवार को फिर लाइन में लगा लेकिन दोपहर बाद तक नंबर आने का इंतजार करता रहा। चालक बंटी ने बताया कि तेज धूप में घंटों इंतजार करने से परेशानी बढ़ गई है। बंटी का आरोप है कि पासिंग सेंटर के अंदर स्टाफ की मनमानी चल रही है।

48 घंटे में नंबर आने के बाद 20 मिनट की जांच में वाहन अनफिट घोषित कर रहे

रोहतक के वाहन नंबर का हैवी व्हीकल का फिटनेस टेस्ट कराने के लिए पासिंग सेंटर में नंबर आने का इंतजार कर रहे चालक आसिफ ने बताया कि वो दो दिन से नंबर आने का इंतजार कर रहे हैं। मंगलवार को नंबर न आने पर वो पासिंग सेंटर के बाहर गाड़ी खड़ी कर रात बिताई।

बुधवार सुबह नंबर आने की उम्मीद में फिर लाइन में लग गया। लेकिन दोपहर तीन बजे तक नंबर नहीं आया। आसिफ ने बताया कि एक वाहन की फिटनेस जांचने में 20 से 25 मिनट का समय लगा रहे हैं। आरोप है कि 48 घंटे के इंतजार के बाद नंबर आने पर सिर्फ लाइट में खामी बताकर गाड़ी रिजेक्ट कर रहे हैं।

तीन दिन में नहीं जांच पाए वाहन की फिटनेस, चक्कर लगवा रहे

झज्जर जिले से वाहन लेकर पासिंग सेंटर में तीन दिन से चक्कर काट रहे नरेश ने बताया कि पासिंग सेंटर का स्टाफ तीन दिन में वाहन की फिटनेस नहीं जांच पाया। आरोप है कि वाहन में लाइट मानक के अनुरूप होने के बाद भी उसे अनफिट घोषित कर दिया। जब वो झज्जर चौक स्थित कंपनी की अधिकृत एजेंसी पर जाकर 472 रुपए की पर्ची कटाकर वाहन ले आए तो स्टाफ को पर्ची दिखाई। इस पर स्टाफ ने वाहन पास होने को आश्वस्त कर दिया। नरेश ने कहा कि यहां पर खुलेआम वाहन मालिकों को प्रताड़ित किया जा रह है।

3 दिन में नंबर आया और ब्रेक और लाइट में कमी गिना अनफिट कर दिया

जमालपुर निवासी राजेश ने बताया कि वाहन की पासिंग कराने के लिए तीन दिन से पासिंग सेंटर के चक्कर काट रहे हैं। सभी कागजी प्रक्रिया पूरी की हुई है। मंगलवार को नंबर आने पर पासिंग सेंटर में वाहन ले गए। यहां पर स्टाफ ने 25 मिनट तक सभी जांच की।

आखिर में ब्रेक और लाइट में कमी बताकर वाहन को अनफिट घोषित कर दिया। झज्जर चौक पर जाकर कंपनी की अधिकृत एजेंसी में 470 रुपए से ज्यादा की पर्ची कटवाई। पासिंग सेंटर स्टाफ को पर्ची दिखाने पर फौरन वाहन पास होने की संभावना जता दी। राजेश ने कहा कि ये सरासर सेंटर प्रबंधन की मनमानी है।

एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ये दे चुके हैं हिदायत, जांच 15 मिनट में करनी होगी

27 जनवरी को परिवहन विभाग एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिश्नर ने पांच जिलों के आरटीए अधिकारियों की उपस्थिति में हिदायत जारी की थी कि सोनीपत, पानीपत, झज्जर, रोहतक, पानीपत, जींद जिला से आने वाले वाहनों की पासिंग समय पर सुनिश्चित करने के लिए सेंटर में मैनपावर बढ़ाई जाए।

सेंटर में आने वाले प्रत्येक वाहन की 10 मानकों पर फिटनेस जांच में अधिकतम 15 मिनट में सुनिश्चित करनी होगी। वाहन की फिटनेस रिपोर्ट शाम पांच बजे तक हर हाल में संबंधित जिले के आरटीए दफ्तर में भेजी जाए। लेकिन अब तक एडिशनल ट्रांसपोर्ट कमिश्नर की हिदायतों को अमल में नहीं लाया जा सका है।

जिलावार ये दिन निर्धारित

  • सोमवार को जींद जिला
  • मंगलवार को झज्जर जिला
  • बुधवार को रोहतक जिला
  • गुरुवार को सोनीपत जिला
  • शुक्रवार को पानीपत जिला
  • शनिवार को सभी 5 जिले शामिल।

जल्द समाधान कराया जाएगा : जिला परिवहन अधिकारी

पासिंग सेंटर पर वाहन चालकों को आ रही परेशानी का प्रकरण संज्ञान में है। लगातार कंपनी प्रबंधन के साथ मीटिंग कर व्यवस्था बनाने को लेकर बात चल रही है। वाहनों की फिटनेस के लिए वाहन मालिकों व चालकों को चक्कर न लगाना पड़े। इसके लिए व्यवस्था बनाने का प्रयास करेंगे।

सेंटर पर सुबह नौ बजे से देर शाम तक छोटे-बड़े वाहनों की फिटनेस जांचने का काम चल रहा है। पासिंग सेंटर में आटोमेटेड फिटनेस जांच करने की सुविधा है। इसलिए वाहन पासिंग की पारदर्शिता पर कोई सवाल नहीं उठा सकता। फिर भी प्रकरण संज्ञान में आया है तो समस्याओं का समाधान कराया जाएगा। डॉ. संदीप गोयत, जिला परिवहन अधिकारी, आरटीए, रोहतक।

खबरें और भी हैं...

    आज का राशिफल

    मेष
    Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
    मेष|Aries

    पॉजिटिव- आज मार्केटिंग अथवा मीडिया से संबंधित कोई महत्वपूर्ण जानकारी मिल सकती है, जो आपकी आर्थिक स्थिति के लिए बहुत उपयोगी साबित होगी। किसी भी फोन कॉल को नजरअंदाज ना करें। आपके अधिकतर काम सहज और आरामद...

    और पढ़ें