कल हरियाणा अनाज मंडी आढ़तियों की हड़ताल:अनिश्चितकालीन विरोध की होगी शुरुआत; कमीशन पूरा देने व मार्केट फीस कम करने की मांग

रोहतक20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के अनाज मंडी आढ़ती अपनी मांगों को लेकर सोमवार से हड़ताल करने जा रहे हैं। साथ ही यह भी चेतावनी दी कि जब तक उनकी मांग पूरी नहीं होगी, वे अनिश्चितकालीन हड़ताल जारी रखेंगे। इस दौरान अनाज मंडी में खरीद व अन्य कार्य ठप रहेंगे। वे अपनी मांगों के बारे में सरकार को अवगत करवा चुके हैं, लेकिन कोई समाधान नहीं हुआ, इसलिए हड़ताल का निर्णय लिया गया है।

आढ़तियों की मुख्य मांग है कि उन्हें कमीशन पूरा दिया जाए। गेहूं का केवल 46 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से कमीशन दिया गया, जबकि उनका कमीशन 51 रुपए प्रति क्विंटल बनता है। वहीं मार्केट फीस भी अधिक बढ़ाई जा रही है। हरियाणा में आढ़तियों पर 4 प्रतिशत मार्केट फीस लगाई जा रही है, जबकि दिल्ली व राजस्थान में मार्केट फीस मात्र 1 प्रतिशत है, जिसके कारण आढ़तियों में रोष है।

रोहतक अनाज मंडी के पूर्व प्रधान डिंपल ने कहा कि सरकार ई-नेम पोर्टल के माध्यम से आढ़तियों व किसानों के हितों का हनन कर रही है। ई-नेम पोर्टल के माध्यम से जब किसान अनाज लेकर मंडी में पहुंचेगा तो पहले मार्केट कमेटी उस अनाज की लैब करेगी और उसके बाद पोर्टल पर चढ़ाएगी। इसके बाद पोर्टल से जो भी आढ़ती चाहे वह खरीद सकता है। इससे अनाज उठान में देरी होगी और किसानों को समय पर भुगतान भी नहीं मिल पाएगा।

बाजरे की आवक हो चुकी शुरू

बाजरे की आवक मंडियों में शुरू हो चुकी है। ऐसे में आढ़ती हड़ताल करते हैं तो बाजरे की खरीद भी प्रभावित होगी। आढ़तियों द्वारा बाजरा करीब 1800 रुपए प्रति क्विंटल के हिसाब से खरीदा जा रहा है। आगामी दिनों में बाजरे की आवक बढ़ने की उम्मीद है। ऊपर से आढ़ती हड़ताल पर जाने की बात कर रहे हैं। ऐसे में उन किसानों के लिए समस्या खड़ी होगी, जिन्होंने बाजरे की कढ़ाई कर ली है। वे मंडियों में बाजरा भी नहीं बेच पाएंगे।

खबरें और भी हैं...