• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • The Driver Belonged To A Polythene Wholesaler In Gurugram, Had Come To Show The Samples To The Traders In Gohana, The Murder Took Place Late On Wednesday Evening, The Body Was Found On The Back Seat Of The Car.

रोहतक में छाती में गोली मारकर ड्राइवर की हत्या:गुरुग्राम के पॉलीथीन होलसेलर का ड्राइवर बुधवार को गोहाना में दिखाने आया सैंपल, कार की पिछली सीट पर मिला शव

रोहतक20 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
मृतक सुनील (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
मृतक सुनील (फाइल फोटो)

हरियाणा के रोहतक जिले में गुरुग्राम के पॉलीथीन होलसेलर के ड्राइवर की छाती में गोली मारकर हत्या कर दी गई। मरने वाले की पहचान सुनील के रूप में हुई, जो यूपी के इटावा शहर का रहने वाला था। उसका शव खून से लथपथ हालत में कार की पिछली सीट पर मिला। वारदात रोहतक में शिमली-भंभेवा रोड पर अंजाम दी गई। राहगीरों ने सड़क किनारे कार लावारिस हालत में खड़ी देखकर पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने एफएसएल टीम को मौके पर बुलाकर जरूरी साक्ष्य जुटाए और शव पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया। मरने वाले के परिवार और कंपनी मालिक को सूचना दे दी गई है।

कार की पिछली सीट पर खून से लथपथ पड़ा सुनील का शव।
कार की पिछली सीट पर खून से लथपथ पड़ा सुनील का शव।

बुधवार शाम से खड़ी थी गाड़ी

राहगीरों ने बुधवार देर शाम शिमली-भंभेवा रोड पर कार सड़क के बीच खड़ी देखी थी। मगर शाम का समय होने की वजह से सभी ने उसे अनदेखा कर दिया। गुरुवार सुबह भी जब कार वहीं खड़ी मिली तो ग्रामीणों को शक हुआ। उन्होंने कार के अंदर झांका तो पिछली सीट पर एक व्यक्ति को पड़े देखा। उस शख्स के सीने में गोली मारी गई थी और कार की पिछली सीट पर खून बिखरा था। उन्होंने पुलिस को सूचना दी। रोहतक के एएसपी कृष्ण लोहचब शिवाजी काॅलोनी थाने की टीम के साथ मौके पर पहुंचे।

मौके पर जांच करती पुलिस व एफएसएल टीम।
मौके पर जांच करती पुलिस व एफएसएल टीम।

इटावा का सुनील रह रहा था गुरुग्राम में

पुलिस ने गाड़ी के कागजात और अन्य दस्तावेजों के आधार पर मरने वाले की पहचान 40 वर्षीय सुनील पुत्र शिवरत्न के रूप में हुई। सुनील मूलरूप से यूपी के इटावा शहर का रहने वाला था और काफी समय से गुरुग्राम में रह रहा था। वह गुरुग्राम की एक कंपनी में ड्राइवर था। पुलिस ने बताया कि सुनील अपनी कंपनी के पॉलीथीन के सैंपल देने रोहतक आया था। वह बुधवार शाम को गुरुग्राम से निकला। उसे गोहाना के एक व्यापारी को सैंपल देने थे, मगर सुनील उस व्यापारी तक पहुंचा ही नहीं। पुलिस को शक है कि बुधवार देर रात ही सुनील की हत्या कर दी गई।

कार की जांच करते एएसपी कृष्ण लोहचब।
कार की जांच करते एएसपी कृष्ण लोहचब।

बदमाशों के साथ हुई जोर-जबरदस्ती

रोहतक की शिवाजी काॅलोनी के थाने के एसएचओ इंस्पेक्टर बलवंत सिंह के अनुसार, शुरुआती जांच में ऐसा लगता है कि सुनील की हत्या किसी दूसरी जगह की गई और उसके बाद कार को शिमली-भंभेवा रोड पर छोड़ दिया गया। गाड़ी की हालत देखकर ऐसा लग रहा है कि शायद सुनील और हत्यारों के बीच झड़प भी हुई होगी। हत्यारों ने सुनील का मोबाइल फोन भी तोड़ दिया। कार को देखकर पहली बार में लूटपाट की कोई बात नहीं लगती। आगे की जांच चल रही है।

खबरें और भी हैं...