पंचतत्व में विलीन हुए शहीद जवान:रोहतक के नवीन की मुंबई में समुंद्र में सेलिंग खेल के दौरान बोट पलटी थी, 9वें दिन तोड़ा दम

रोहतक5 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद जवान नवीन वशिष्ठ (फाइल फोटो) - Dainik Bhaskar
शहीद जवान नवीन वशिष्ठ (फाइल फोटो)

हरियाणा के रोहतक जिले के भारतीय सेना में तैनात जवान नवीन वशिष्ठ शहीद हो गए। वह दस दिन पहले मुंबई में समुंद्र में सेलिंग बोट खेल के दौरान दुर्घटना होने से घायल हुए थे। बुधवार देर रात उन्होंने मुंबई के अस्पताल में अंतिम सांस ली। गुरुवार को उनका पार्थिव शरीर रोहतक की जनता कॉलोनी में पैतृक निवास पर लाया गया। यहां से पार्थिव देह को वैश्य कॉलेज के पास श्मशान घाट ले गए। जहां राजकीय सम्मान के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया।

पिता बंसीलाल ने कहा कि हादसे से पहले 8 दिसंबर को उनकी बेटे से फोन पर बात हुई थी। जिसमें उसने जल्द ही करीब 20 दिन की छुट्‌टी आने की बात कही थी। वह अक्सर देश के लिए ओलंपिक में खेलकर गोल्ड मेडल लाने की बात करता था। इसी जुनून के साथ वह दिन रात कड़ा अभ्यास करता था। शहीद के दो भाई आशू और प्रवीन हैं।

सेलिंग के राष्ट्रीय खिलाड़ी थे नवीन

भारतीय सेना में 2015 में भर्ती हुए 26 वर्षीय नवीन सेलिंग खेल के राष्ट्रीय खिलाड़ी थे। नवीन का पैतृक गांव मड़कौली है। अभी उसके माता-पिता व परिवार के अन्य सदस्य शहर की जनता कॉलोनी में रहते हैं। विगत 13 दिसंबर को मुंबई में समुंद्र में नवीन सेना की बोट प्रैक्टिस में हिस्सा ले रहे थे। इस दौरान उनकी बोट पलट गई। जिसमें जवान को सिर पर चोट लग गई। जवान नवीन का नौ दिनों से मुंबई के एक अस्पताल में इलाज चल रहा था। बुधवार रात को अस्पताल में वह जिंदगी की जंग हार गए।