पानीपत बार एसोसिएशन के चुनाव 17 को:प्रधान पद के लिए 3, उपप्रधान व सचिव के लिए 2-2 और सहसचिव व कैशियर के लिए 4-4 आवेदन

पानीपत2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

हरियाणा के सभी जिलों में बार एसोसिएशन की नई गवर्निंग बॉडी के चुनाव का बिगुल बज चुका है। पानीपत जिले में भी बार एसोसिएशन चुनाव के लिए नामाकंन प्रक्रिया पूरी हो चुकी है। यहां प्रधान पद के लिए तीन वकील चुनाव मैदान में हैं। उपप्रधान और सचिव पद के लिए दो-दो वकीलों ने नामांकन भरे हैं। इसी तरह बार एसोसिएशन के सह-सचिव और कैशियर पद के लिए 4-4 वकीलों ने आवेदन किया है। पानीपत बार एसोसिशन के चुनाव में वोटिंग 17 दिंबसर को होगी। उस दिन सुबह 8 बजे से शाम साढ़े 4 बजे तक बार के मेंबर वोट डाल सकेंगे। वोटिंग के दौरान दोपहर साढ़े 12 बजे से 1 बजे तक लंच रहेगा। वोटिंग खत्म होने के बाद शाम 5 बजे काउंटिंग शुरू होगी और शाम तक नए पदाधिकारियों का ऐलान कर दिया जाएगा।

पढ़िए... प्रधान पद के दावेदारों और उनके चुनावीं मुद्दों के बारे में

1. राजेश शर्मा ने कहा-बार का काम कंप्यूटराइज कर पारदर्शिता लाएंगे

अधिवक्ता राजेश शर्मा 21 साल से रेगुलर प्रैक्टिस कर रहे हैं। वर्ष 2012 में उपप्रधान चुने गए। उन्होंने 2018 में भी बार एसोसिएशन के प्रधान पद का चुनाव लड़ा और दूसरे नंबर पर रहे। राजेश शर्मा के अनुसार, अगर वह प्रधान बने तो वकीलों के लिए कैंटीन, जूनियर वकीलों के लिए चैंबर, लेडीज वॉशरूम और नई बिल्डिंग के साथ पड़ी जमीन पर वकीलों के लिए तीसरी बिल्डिंग बनवाने का काम करेंगे। बार और बेंच के बीच सही तालमेल बनाने का काम भी किया जाएगा। बार के हर काम में पारदर्शिता लाई जाएगी और महिला वकीलों को आगे बढ़ाने के सार्थक प्रयास किए जाएंगे। सभी वकीलों के अलग-अलग बिजली मीटर लगवाने की कोशिश रहेगी। बार एसोसिएशन का सारा काम कम्प्यूटरराइज किया जाएगा। लाइब्रेरी अपग्रेड करने के अलावा बुक्स ऑनलाइन उपलब्ध करवाई जाएंगी।

2. वीरेंद्र मलिक बोले-5 पदों में से एक पद महिला वकीलों के लिए रिजर्व करेंगे

अधिवक्ता वीरेंद्र सिंह मलिक 17 साल से रेगुलर प्रैक्टिस कर रहे हैं। वह पहली दफा बार एसोसिएशन का चुनाव लड़ रहे हैं। वीरेंद्र मलिक के अनुसार, अगर वह प्रधान चुने जाते हैं तो ऐतिहासिक फैसला लेते हुए पानीपत बार एसोसिएशन के 5 पदों में से एक पद महिला वकीलों के लिए रिजर्व करने का प्रस्ताव पास कराएंगे। अन्य जिलों की तर्ज पर पानीपत में भी मॉर्डन कैंटीन बनवाई जाएगी। सोलर प्लांट लगवाएंगे। जूनियर वकीलों के बैठने की व्यवस्था करवाई जाएगी। बार एसोसिएशन की बिल्डिंग को वाई-फाई करवाएंगे और पार्किंग के लिए अतिरिक्त जगह ली जाएगी।

3. नए वकीलों को चैंबर दिलवाने के लिए काम करूंगा : सुरेंद्र दूहन

अधिवक्ता सुरेंद्र दूहन पानीपत में 15 साल से रेगुलर प्रैक्टिस कर रहे हैं। वह दूसरी बार चुनाव लड़ रहे हैं। सुरेंद्र दूहन ने वर्ष 2020 में भी पानीपत बार एसोसिएशन के प्रधान पद का चुनाव लड़ा। तब वह महज 37 वोटों से हार गए। सुरेंद्र दूहन के अनुसार, अगर वह जीतते हैं तो नए वकीलों को चैंबर दिलवाने के लिए काम करेंगे। लेडीज वॉशरूम ठीक कराया जाएगा। बार रूम, पार्किंग व कैंटीन आदि बार के करवाने का प्रयास करेंगे। वकील बिजली के लिए इस समय 16 रुपए प्रति यूनिट दे रहे हैं। वह इसे कम कराने का प्रयास करेंगे। सोलर प्लांट लगवाने के लिए सीएम और डीसी से मिलकर आवाज उठाएंगे।

खबरें और भी हैं...