रोहतक का दुल्हन गोलीकांड:मुख्य आरोपी साहिल गिरफ्तार; तीन दिन के पुलिस रिमांड पर, वारदात में शामिल एक और बदमाश गिरफ्तार

रोहतक8 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आरोपी साहिल को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने लिया तीन दिन का रिमांड। - Dainik Bhaskar
आरोपी साहिल को कोर्ट में पेश कर पुलिस ने लिया तीन दिन का रिमांड।

हरियाणा के रोहतक जिले के गांव भाली आनंदपुर में हुए दुल्हन गोलीकांड के मुख्य आरोपी साहिल को पुलिस ने रविवार को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी साहिल की यूपी-हरियाणा सीमा पर सोनीपत के गांव पलड़ी से गिरफ्तारी बताई है। आरोपी साहिल को पुलिस ने आज कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे तीन दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया है। देर शाम बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी मुख्य आरोपी साहिल के दूसरे अजय उर्फ आलू निवासी सांपला वार्ड 5 को गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं, मामले को लेकर अभी तक एसपी के पत्रकार वार्ता कर खुलासे करने की बात पर संशय बना हुआ है। इस वारदात में बहुत से ऐसे सवाल है, जिनका हर कोई जबाब जानना चाहता है। मगर मामले की गंभीरता को जानते हुए भी पुलिस अधिकारी अभी तक इन सवालों से दूरियां बनाए हुए हैं।

वारदात के विरोध स्वरूप बंद पड़ा सांपला का बाजार।
वारदात के विरोध स्वरूप बंद पड़ा सांपला का बाजार।

वहीं सांपला में बाजार और मंडी बंद करा दिए गए हैं। रविवार को ग्रामीणों ने पंचायत कर ऐलान किया था कि वारदात के विरोध में सोमवार सुबह 10 से शाम चार बजे तक सांपला का मुख्य बाजार और मंडी को बंद रखा जाएगा। सुबह 10 बजते ही ग्रामीणों ने व्यापारियों के साथ मिलकर बाजार को बंद कराना शुरू कर दिया था। हालांकि कुछ व्यापारी दुकान खोलकर बैठे थे। उन्हें भी समझाने का प्रयास किया जा रहा है। ग्रामीणों का कहना है कि जिस तरीके से इस वारदात को अंजाम दिया गया है वह बेहद निंदनीय है। दोषियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जाए। शाम 4 बजे बाजारों को खोल दिया गया।

पीजीआई रोहतक के ट्रॉमा सेंटर में उपचाराधीन तनिष्का।
पीजीआई रोहतक के ट्रॉमा सेंटर में उपचाराधीन तनिष्का।

पीजीआईएमएस रोहतक के ट्रॉमा सेंटर में उपचाराधीन घायल तनिष्का की हालत नाजुक बनी हुई है। उसके शरीर में 7 गोलियों के होने की पुष्टि हुई है। हैरत की बात यह है कि तनिष्का के शरीर से डॉक्टर अभी तक सिर्फ एक ही गोली निकाल पाए हैं। बाकी गोलियां इस कदर फंसी हुई है कि उन्हें निकालने के लिए तनिष्का के शरीर का संतुलन सही नहीं बन पा रहा है। उसका रक्तचाप कभी बढ़ रहा है तो कभी घट रहा है, जिस कारण डॉक्टर गोलियां नहीं निकाल पा रहे हैं।

परिजन और समाजसेवियों ने सरकार से की अपील

घायल तनिष्का की स्थिति को दिन प्रतिदिन नाजुक होते देखकर परिजनों के दुख में अब शहर के समाजसेवी भी साथ खड़े हो गए हैं। परिजनों और समाजसेवियों ने तनिष्का के बेहतर इलाज के लिए सरकार से मदद करने की अपील की है। लोगों का कहना है कि पीजीआईएमएस ने अपनी तरफ से अभी तक बेहतर से बेहतर उपचार किया है। मगर इससे ज्यादा इलाज करने में पीजीआई सक्षम नहीं है। परिवार की आर्थिक स्थिति इतनी मजबूत नहीं है कि वे उसे किसी निजी अस्पताल में भर्ती करवा सकें। इसलिए सरकार से अपील है कि वे तनिष्का का किसी बेहतर अस्पताल में इलाज करवाएं, ताकि अपनी जिंदगी की जंग लड़ रही तनिष्का जीत जाए।