रोहतक में SP के नाम पर ठगी:झगड़े का केस खत्म करने के एवज में लिए थे 5.50 लाख, आरोपी पर धोखाधड़ी का केस दर्ज

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ठगी का शिकार हुआ पीड़ित शंकर। - Dainik Bhaskar
ठगी का शिकार हुआ पीड़ित शंकर।

हरियाणा के रोहतक जिले के पूर्व पुलिस अधीक्षक (SP) के नाम पर व्यक्ति ने झगड़े का केस निपटाने के लिए एक परिवार से साढ़े 5 लाख रुपए ले लिए। एक साल से ज्यादा बीत जाने के बाद भी थाने में मामला ज्यों का त्यों बना रहा। जिसके बाद परिवार ने उक्त व्यक्ति से संपर्क किया। जिस पर उसने बताया कि अब तो एसपी का ट्रांसफर भी हो गया। उन्हें रुपए दिए थे, अब वे चले गए हैं। अब एसपी को दिए हुए रुपए किस तरह वापिस लूं। खुद के साथ बड़ी धोखाधड़ी होने के बारे में पता लगने पर परिजनों ने इसकी शिकायत पुलिस को दी। पुलिस ने शिकायत के आधार पर आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी व अन्य धाराओं में केस दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी है।

तीन भाइयों के नाम थे झगड़े में इसलिए परिवार ने दे दिए 5.50 लाख

पुलिस को दी शिकायत में शंकर ने बताया कि वह गांव अटायल का रहने वाला है। वह निजी नौकरी करता है। उसका गांव में किसी के साथ झगड़ा हो गया था। जिसकी रिपोर्ट सांपला थाना में दर्ज है। इस झगड़े में शंकर के अलावा उसके भाई संदीप व मंजीत पर भी आरोप लगे हैं। झगड़े के चलते परिवार बहुत परेशान रहता है। इसी परेशानी के चलते घर में हरिओम नाम का व्यक्ति किसी परिचित के जरिए घर में आया।

जिसने खुद को रोहतक के पूर्व एसपी का जानकार बताया। एसपी से इस झगड़े को लेकर बात हो चुकी है। इस पूरे मामले को निपटाने के लिए साढ़े 5 लाख रुपए लगेंगे। उक्त राशि एसपी को ही दी जाएगी। केस रफा-दफा हो जाएगा। हरिओम नरेला के शिवाजी नगर गली नंबर 2 में रहता है। पीड़ित परिवार का कहना है कि झगड़े में तीन भाइयों का नाम आने से परिवार बहुत ही ज्यादा परेशानी से गुजर रहा था। जिसके चलते वे हरिओम की बातों में आ गए।