पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • Hello! BJP JJP Helpline We Want Oxygen Cylinders, Please Give Us Your Government, The Answer Our Team Is Looking For Itself In The Newspaper, We Will Tell You As Soon As You Know.

नेताओं की कोविड टेली सर्विस की पड़ताल:हेलो! भाजपा-जजपा हेल्पलाइन- हमें ऑक्सीजन सिलेंडर चाहिए, प्लीज दिला दो आपकी तो सरकार है, जवाब- हमारी टीम खुद अखबार में ढूंढ रही, पता लगते ही बताएंगे

राेहतकएक महीने पहलेलेखक: रत्न पंवार
  • कॉपी लिंक
  • कोई बेबस तो कोई अखबार में छप रहे संस्थाओं के नंबर बता पीछा छुड़ा रहा

सरकारी सिस्टम की तरह प्रदेश की सरकार चला रही भाजपा और जजपा के स्थानीय नेताओं की हेल्पलाइन भी हेल्पलेस नजर आने लगी है। नेताओं की ओर से नाम कमाने के लिए कोरोना काल में हेल्पलाइन तो चालू कर दी गई, लेकिन इंतजाम ना होने के कारण अब नेताजी फोन करने वाले पीड़ितों के सामने बेबसी का रोना रो रहे हैं।

इन नेताओं की हेल्पलाइन पर फोन करने पर कोई अपने ही मरीजों को मदद ना मिलने का दुखड़ा रोने लगता है तो कोई सिर्फ सोशल मीडिया और अखबारों में जनसेवा के लिए छापे जा रहे नंबर को ही बताने में लगा है। इस तरह वे इसे भी मदद ही मान रहे हैं। जजपा और भाजपा ने जिले में मदद के लिए जो अपने हेल्पलाइन नंबर जारी कर रखे हैं जानिए उन पर फोन करने वालों को किस तरह का जवाब मिलता है।

भाजपा: हेल्पलाइन(9812391069) पर बातचीत के अंश

  • पीड़ित : नमस्कार, भाईसाहब एक ऑक्सीजन सिलेंडर की बड़ी जरूरत है। तत्काल चाहिए।
  • हेल्पलाइन : भाई, ऑक्सीजन सिलेंडर तो कहीं नहीं मिल रहा है। मेरी किसी परिचित को भी चाहिए, मैं बहुत ट्राई कर रहा हूं। मिल नहीं रहा है।
  • पीड़ित : फिर कहीं पर अाप एक ऑक्सीजन बेड का ही अरेंजमेंट करवा दो।
  • हेल्पलाइन : आपके पास सिलेंडर खाली है कोई। जवाब मिला नहीं तो बोले- बहुत पैनिक स्थिति है। मेरा खुद का निजी मरीज है, लेकिन ना उसके लिए बेड मिल रहा है और ना ही सिलेंडर।
  • पीड़ित : भाई साहब देख लो, आपकी तो सरकार है प्रदेश में, पीजीआई वगैरह में हो जाए अरेंजमेंट।
  • हेल्पलाइन : फोन कर चुका हूं सब जगह, ओवरलोडेड हैं सारे। स्ट्रेचर पर बैठे हैं मरीज। सिविल अस्पताल में भी 10 आदमी वेटिंग में हैं। और यहां पीजीआई में भी 210 की कैपेसिटी में 371 मरीज हैं। क्या हाल होगा, आप ही देखो। अभी तो जो हालात हैं उनमें बहुत दिक्कत आ रही है।
  • पीड़ित : तो प्राइवेट वाले को फोन कर दो भाईसाहब, सीरियस हालत हैं।
  • हेल्पलाइन : जो आप चाहते हो मैं आपकी वही हेल्प कर देता, लेकिन सच्चाई है कि रोहतक में इस समय कोई जगह नहीं है। मेरे खुद के 2-3 निजी मरीज हैं। उनके लिए भी अरेंज नहीं हो पा रहा।

जजपा: हेल्पलाइन (9416052454)

  • पीड़ित : भाईसाहब, जजपा हेल्पलाइन से बोल रहे हो, ऑक्सीजन सिलेंडर की जरूरत पड़ रही है, दिलवा दीजिए ।
  • हेल्पलाइन : हां, भाई बड़े सिलेंडर तो पुराना आईडीसी में 148 नंबर है, यहां एसडीएम की ड्यूटी लगी है। सरकारी रेट पर मिलेगा। अगर छोटा सिलेंडर है तो पार्षद खुराना जी भी निशुल्क भर रहे हैं, उनका नंबर है, 92155...।
  • पीड़ित : ये आपकी पार्टी की तरफ से है क्या भाईसाहब।
  • हेल्पलाइन : नहीं पार्टी की तरफ से नहीं है। हमें ऊपर से गाइडलाइन है कि जहां भी किसी चीज का पता लगे तो लोगों को बताओ ताकि उन्हें भागना न पड़े और सूचना मिल जाए कि कहां क्या सुविधा मिल रही है।
  • पीड़ित : भाईसाहब कोई सिलेंडर मिल जाए तो वही बता देना, खाली ही भरवा लेंगे फिर।
  • हेल्पलाइन : हमारी टीम सोशल मीडिया और अखबार पर नजर रखने के लिए लगा रखी है, मिलते ही तुरंत बता देंगे।

अब कॉल घटी, स्थिति सुधरी है : भाजपा

हमारी हेल्पलाइन पर हर तरह से लोगों की मदद की जा रही है। किसी को कोई परेशानी होती है तो तत्काल मदद दी जाती है। अब लॉकडाउन का भी असर हुआ है। पहले दिक्कत थी और रोजाना 40 कॉल आती थी अब तो स्थिति ठीक हो रही है। अब रोजाना 15 काॅल आती है। आप मदद बताओ तुरंत मिलेगी।

- रमेश भाटिया, संयोजक, भाजपा हेल्पलाइन।

पार्टी कार्यालय में ही बना देंगे सेंटर: जजपा

अभी बेड और ऑक्सीजन की समस्या बनी है, लेकिन इसके लिए विचार कर रहे हैं कि हम अपने पार्टी कार्यालय के ऊपरी मंजिल को ही कोविड केयर सेंटर में तब्दील कर दें। जहां तक ऑक्सीजन की बात है तो डिप्टी सीएम दुष्यंत चौटाला की विदेश में बात चल रही है और वे ऑक्सीजन कंसंट्रेटर मंगवाने में लगे हैं।

- बलवान सुहाग, जिलाध्यक्ष, जजपा।

खबरें और भी हैं...