• Hindi News
  • Local
  • Haryana
  • Rohtak
  • DC Had Given Strict Instructions For The Immediate Withdrawal Of Rain Water, Were Not Accepted, Result: The Bridegroom Had To Be Taken Out Of The Rain Water.

रोहतक में अधिकारी नहीं मानते डीसी के आदेश:बारिश से जलभराव की समस्या को दूर करने संबंधी चेतावनी की उड़ी धज्जियां, शहरवासियों के साथ बारातियों को भी भुगतनी पड़ी परेशानी

रोहतक2 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
बसरात के पानी से ही गुजरता घोड़ी सवार दूल्हा। - Dainik Bhaskar
बसरात के पानी से ही गुजरता घोड़ी सवार दूल्हा।

रोहतक के अफसरों को जिले सबसे बड़े अधिकारी यानि डिप्टी कमिश्नर के आदेश की कोई परवाह नहीं। 5 दिन पहले DC ने शहर में बरसाती पानी भर जाने की वजह से हुई लोगों को परेशानी के चलते अधिकारियों की आपातकालीन बैठक ली थी। आदेश दिए थे कि शहर में कहीं भी पानी जमा नहीं होना चाहिए। सभी मैनहोल के ढक्कन ढके हुए होने चाहिए। अगर ऐसा नहीं होता है और इनकी वजह कोई हादसा हो गया तो संबंधित विभाग के अधिकारी पर गैर इरादतन हत्या का केस दर्ज होगा। इसके बाद भी अधिकारियों के कानों पर इन आदेशों की जूं तक नहीं रेंगी। इसका खामियाजा आज हुई बरसात के चलते लोगों को भुगतना पड़ा। यहां तक कि एक बारात को भी परेशान होना पड़ा।

बारिश का पानी जमा होने से नीचे उतरने का रास्ता देखता दूल्हा।
बारिश का पानी जमा होने से नीचे उतरने का रास्ता देखता दूल्हा।

कहीं 4MM तो कहीं 30MM हुई बारिश
गुरुवार सुबह करीब 11 बजे मौसम ने अपना रूख बदला और तीन घंटे तक बरसात हुई। बारिश जिले के आउटर में कम हुई है। डी-पार्क से दिल्ली बाइपास की तरफ बारिश कुल 4MM रही तो वहीं, डी-पार्क से सिटी थाना तक भारी बारिश हुई है। यह बारिश अनुमानित 30MM हुई है। इस बारिश ने शहर में सुभाष चौक से कोर्ट चौक, सैनीपुरा रोड, न्यू राजेंद्रा कॉलोनी, आकाशवाणी के पास, गोहाना रोड, रेलवे रोड, बाबरा मोहल्ला, छोटूराम चौक से शांतमई चौक, रेलवे रोड, किला रोड, भिवानी रोड स्थित ट्रांसपोर्ट नगर, हिसार रोड स्थित पालिका कॉलोनी, तिलियार कम्युनिटी सेंटर के पास जलभराव हो गया। जलभराव में से निकलने के दौरान कई दुपहिया वाहन व ऑटो बंद हो गए, जिन्हें चालक खींचकर ले जाने को मजबूर हुए। वहीं जल निकासी के लिए जनस्वास्थ्य विभाग और नगर निगम द्वारा किए गए इंतजाम नाकाफी साबित हुए।

बरसात के पानी में बंद हुई कार।
बरसात के पानी में बंद हुई कार।

अधिकारियों को दिया समय खत्म, आज शाम को करेंगे समीक्षा
वहीं, इस बारे में डीसी कैप्टन मनोज कुमार ने फिर से अपना बयान दिया है कि अधिकारियों को कड़ी चेतावनी दे दी गई थी। फिर भी कोई कोताही करेगा, तो उसका परिणाम वह खुद ही भुगतेगा। किसी को भी बख्शा नहीं जाएगा। सभी अधिकारियों को पिछली मीटिंग में अपनी कार्यशैली सुधारने के लिए एक सप्ताह का समय दिया था। आज वह समय पूरा हो चुका है। शाम को फिर से सभी के काम की समीक्षा कर आगामी निर्णय लिए जाएंगे।

खबरें और भी हैं...